Covid-19 Update

56,802
मामले (हिमाचल)
55,071
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,543,659
मामले (भारत)
94,312,257
मामले (दुनिया)

राहुल गांधी ने उड़ाया PM का मजाक, कहा- नहीं कर सके पद्मासन

राहुल गांधी ने उड़ाया PM का मजाक, कहा- नहीं कर सके पद्मासन

- Advertisement -

नई दिल्ली। दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में कांग्रेस पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के जन वेदना सम्मेलन की शुरुआत हो चुकी है। सम्मेलन की अध्यक्षता राहुल गांधी कर रहे हैं। मंच पर राहुल गांधी सहित पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे और अन्य नेता मौजूद हैं। एक ओर राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर एक बार फिर PM नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा वहीं PM का मजाक भी उड़ाया। राहुल ने PM मोदी का मजाक उड़ाते हुए कहा कि, PM से पद्मासन भी ठीक से नहीं हुआ। स्वच्छ भारत पर तंज कसते हुए रहुल ने कहा कि, BJP नेता झाड़ू भी ठीक से नहीं पकड़ पाए। तीन-चार दिन झाड़ू लगाया और चल दिए। राहुल ने अपने संबोधन में कहा कि PM ने नोटबंदी पर अपरिपक्व फैसला लिया। उन्होंने बिना किसी से पुछे नोटबंदी का फैसला लागू किया। RBI गवर्नर की बातें नजरअंदाज की गईं। दुनियाभर के अर्थशास्त्रियों ने नोटबंदी की निंदा की है। मोदी सोचते हैं कि अब देश को वह और मोहन भागवत चलाएंगे। राहुल ने कहा कि BJP देश की आत्मा को मार रही है। उन्होंने कहा कि BJP ने लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर किया। राहुल गांधी यहीं नहीं रुके। उन्होंने अपने संबोधन में बाबा रामदेव को लपेटे में ले लिया। राहुल ने कहा कि BJP के पास Homemade अर्थशास्त्री हैं। उन्होंने कहा कि बाबा रामदेव BJP के अर्थशास्त्री हैं। राहुल ने कहा कि BJP ने लोगों का खून पसीना एक मिनट में कागज में बदल दिया।
rahul2राहुल ने PM पर कटाक्ष करते हुए कहा कि, वो कहते हैं तुम क्या हो। राहुल ने कहा कि हम देश की आवाज को बचा कर रखेंगे। साथ ही राहुल ने कहा कि अच्चे दिन तब आएंगे जब 2019 में कांग्रेस सरकार आएगी। राहुल गांधी के इस बयान पर BJP ने तीखा पलट वार करते हुए कहा, कि अगर राहुल को देश और देश के गरीबों की चिंता होती तो वह छुट्टी पर नहीं जाते। सरकार के फैसले को 125 करोड़ देशवासियों का समर्थन प्राप्त है। बता दें कि जन वेदना सम्मेलन में पांच हजार से अधिक प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है। इस दौरान देश भर से आए कांग्रेस के 5000 डेलीगेट्स को बुकलेट बांटी जाएगी। जिसमें मोदी सरकार के 2.5 साल के कार्यकाल की विफलताएं भी होंगी और केंद्र में नोटबंदी को रखा जाएगा। गौरतलब है कि कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी स्वास्थय ठीक न होने के चलते इस सम्मेलन में हिस्सा नहीं ले रही हैं। पार्टी के स्थापना दिवस के बाद ये तीसरा बड़ा मौका है जब राहुल गांधी कांग्रेस के किसी सम्मेसन की अध्यक्षता किया। इसे राहुल की अध्यक्ष पद पर ताजपोशी के संकेत के तौर पर भी देखा जा रहा है

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है