Covid-19 Update

58,607
मामले (हिमाचल)
57,331
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,096,731
मामले (भारत)
114,379,825
मामले (दुनिया)

BJP की रैलियों का जवाब रैलियों से देगी युवा Congress

BJP की रैलियों का जवाब रैलियों से देगी युवा Congress

- Advertisement -

शिमला। कांग्रेस सरकार के खिलाफ बीजेपी द्वारा राज्य में की जा रही रैलियों का जवाब अब युवा कांग्रेस देगी। युवा कांग्रेस न केवल रैलियों का जवाब रैलियों से देगी, बल्कि बीजेपी से ज्यादा भीड़ जुटाकर उसका प्रतिकार करेगी। इसकी शुरुआत कल मंडी जिले के सरकाघाट से होगी। प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने आज यहां इसका ऐलान किया।

विक्रमादित्य सिंह ने बीजेपी और पूर्व सीएम प्रेमकुमार धूमल को चुनौती दी कि युवा कांग्रेस उनकी जनसभा से बड़ी जनसभा करके दिखाएगी। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले धूमल ने सरकाघाट में जनसभा की थी और वहीं पर कल युवा कांग्रेस की रैली है।

उन्होंने दावा किया कि कल होने वाली रैली धूमल की रैली से बड़ी होगी। उन्होंने कहा कि कल होने वाली रैली केवल युवा कांग्रेस की होगी। प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी चाहे जितनी मर्जी रैली करे, लेकिन वह जनता अब इनके झांसे में आने वाली नहीं हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी की रैलियों का जवाब युवा कांग्रेस देगी। उन्होंने कहा कि सरकाघाट में कल होने वाली जनसभा के बाद युवा कांग्रेस 11 अप्रैल को पांवटा साहिब में जनसभा करेगी।

  • शुरुआत कल मंडी जिले के सरकाघाट से होगी
  •  इस जनसभा में युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष व दूसरी बार विधायक बने अमरेंद्र राजा बराड़ विशेष रूप से शामिल होंगे। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि बीजेपी जहां-जहां भी रैलियां करेगी, वहीं पर युवा कांग्रेस भी जनसभा करेगी और सारी जनसभा धूमल और बीजेपी के जनसभा से बड़ी होगी। विक्रमादित्य सिंह ने धूमल पर आरोप लगाया कि वह धर्मशाला को दूसरी राजधानी बनाने के नाम पर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसे लेकर सीएम वीरभद्र सिंह पहले ही स्थिति स्पष्ट कर चुके हैं। इसके बाद भी बीजेपी और धूमल इसे लेकर गलत बयानबाजी कर रहे हैं। विक्रमादित्य सिंह ने इसी मुद्दे पर चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा को भी आड़े हाथ लिया।उन्होंने कहा कि बलबीर वर्मा ने बीजेपी में जाने को लेकर बात कही, वह बचकानी है, क्योंकि यहां से कोई राजधानी शिफ्ट नहीं हुई है। इस बात को लेकर सीएम सार्वजनिक रूप से कई बार कह भी चुके हैं। उन्होंने केंद्र सरकार पर राज्य की वित्तीय मदद न करने का आरोप भी लगाया और कहा कि केंद्र से वही मिल रहा है जो हिमाचल को एक राज्य के रूप में हिस्सा मिलना है। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है