Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,853,870
मामले (भारत)
178,745,302
मामले (दुनिया)
×

फांसी से बचने के लिए International Court की शरण में निर्भया के दोषी, मुकेश की याचिका खारिज

फांसी से बचने के लिए International Court की शरण में निर्भया के दोषी, मुकेश की याचिका खारिज

- Advertisement -

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gangrape)के दोषियों के खिलाफ चौथा डेथ वारंट जारी गया है। सभी दोषियों को 20 मार्च सुबह साढ़े पांच बजे फांसी होगी। लेकिन, इससे पहले दोषियों ने फांसी की सजा पर रोक लगाने के लिए इंटरनेशनल कोर्ट (International Court) का रुख किया है। दोषियों ने फांसी की सजा पर रोक लगाने के साथ ही दोषियों ने मांग की है कि कोर्ट निचली अदालत से सभी रिकॉर्ड वापस मंगवाए लेकिन वे अपना पक्ष रख सकें। इसके अलावा दोषी मुकेश की याचिका को भी सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। दोषी ने इस याचिका में अपनी पहली वकील के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

निर्भया के दोषियों के वकील ए पी सिंह ने अंतरराष्ट्रीय अदालत को लिखे इस पत्र को नीदरलैंड (Netherlands) के दूतावास को दिया गया है जो ICJ को भेजा गया है। गौर हो, इससे पहले भी दोषी नए-नए कानूनी हथकंडे अपना कर तीन बार फांसी की सजा से बच चुके हैं। उधर, सभी दोषियों के परिजनों ने भी राष्ट्रपति के समक्ष इच्छामृत्यु की मांग रखी है। इच्छामृत्यु की मांग करने वाले लोगों में दोषियों के माता-पिता भाई बहन और उनके बच्चों का नाम भी शामिल है। परिवार का कहना है कि उन सभी को इच्छामृत्यु देने से भविष्य में होने वाली रेप जैसी घटनाओं को रोका जा सकता है। इसके अलावा उन्होंने कहा है कि इससे पहले भी देश के महापापियों को माफ़ किया जा चुका है। क्षमा करना ही सबसे बड़ी शक्ति का उदाहरण है।


हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है