Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

कोरोना का नया स्ट्रेन, 24 घंटे में ही खराब हो गए 32 साल की महिला के फेफड़े

राजस्थान के कोटा में सामने आया मामला, डॉक्टरों ने तुरंत जांच की सलाह

कोरोना का नया स्ट्रेन, 24 घंटे में ही खराब हो गए 32 साल की महिला के फेफड़े

- Advertisement -

कोरोना की दूसरी लहर ने भारत में कहर मचा दिया है। कई दिनों से भारत में रोजाना कोरोना के 2 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। नए स्ट्रेन ने भी भारत की चिंता बढ़ा रखी है, लेकिन कोरोना (Corona) का ऐसा मामला भी सामने आया है जो बेहद खौफनाक है। मामला इतना डरावना है कि जो लोग अभी भी कोरोना को हल्के में ले रहे हैं वो भी सकते में आ जाएंगे। कोरोना के कारण राजस्थान (Rajsthan) में महज 24 घंटे में ही एक 32 साल की महिला के फेफड़े (Lungs) खराब हो गए। महज एक दिन के भीतर ही महिला के फेफड़ों में 80 फीसदी तक इन्फेक्शन फैल चुका था।

यह भी पढ़ें :- 24 घंटे में कोरोना के दो लाख से भी ज्यादा मामले, PM Modi ने की कुंभ मेला समाप्त करने की अपील

यह राजस्थान के कोटा का है, जहां एक 32 साल की महिला ने नौ तारीख को एक्स-रे करवाया तो वह ठीक थी। इसके बाद 12 तारीख तक भी महिला की स्थिति अच्छी थी। महिला का बीपी और ऑक्सीजन (BP and Oxygen) लेवल यहां तक की एक्स रे भी ठीक था, लेकिन 12 तारीख की रात को महिला को घबराहट महसूस होने लगी। इसके बाद महिला 13 तारीख तक खड़ी भी नहीं हो पा रही थी और उसे सांस लेने में भी दिक्कत (Breathing Problem) हो रही थी। महिला का चेकअप होने बाद पता चला कि उसका ऑक्सीजन लेवल 94 था। इसके बाद महिला का सिटी स्कैन करवाया गया तो उसके दोनों फेफड़ों में 80 फीसदी तक इन्फेक्शन (Infection) फैल चुका था। महिला का सिटी स्कैन 13 तारीख को करवाया गया था। इसके बाद डॉक्टरों ने इंदौर के विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श किया तो उन्होंने बताया कि कोरोना के नए स्ट्रेन की वजह से ऐसा हुआ है।


यह भी पढ़ें :-वीकेंड कर्फ्यू पर चलेगी Delhi Metro, सफर करने के लिए कौन-कौन होगा पात्र पढ़े ये रपट

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर डॉक्टरों (Doctors) का कहना है कि नया स्ट्रेन काफी तेजी से फैला रहा है। नया स्ट्रेन युवाओं को भी तेजी से प्रभावित करता है। डॉक्टरों का कहना है कि हमें कोरोना (Corona) के इस केस से सबक लेना चाहिए और लक्षण दिखते ही तुरंत जांच करवानी चाहिए, क्योंकि कोरोना अब संभलने और बचने के लिए समय नहीं दे रहा। डॉक्टर के मुताबिक बीपी, ऑक्सीजन लेवल और एक्स रे (Oxygen Level and X Ray) सब ठीक होने के बावजूद भी एकदम फेफड़ों में इन्फेक्शन (Infection) हो सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है