Covid-19 Update

58,457
मामले (हिमाचल)
57,233
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,045,587
मामले (भारत)
112,852,706
मामले (दुनिया)

देशभर में #CoronaVaccination अभियान शुरू, Delhi AIIMS में सफाई कर्मी को लगा पहला टीका

आशंकाओं को दूर करने के लिए एम्स डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने भी ली वैक्सीन

देशभर में #CoronaVaccination अभियान शुरू, Delhi AIIMS में सफाई कर्मी को लगा पहला टीका

- Advertisement -

नई दिल्ली। देशवासियों को जिस दिन का इंतजार इतने समय से था आज वो दिन आ गया है। कोरोना की रोकथाम के लिए आज से देश में टीकाकरण अभियान (Corona vaccination campaign) शुरू हो गया है। टीकाकरण अभियान का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने किया। इसी के साथ देशभर में लाभार्थियों को कोरोना की वैक्सीन लगनी शुरू हो गई है। इस अभियान के साथ ही पीएम मोदी ने को-विन एप को भी लॉन्च किया। दिल्ली एम्स में एक सफाई कर्मचारी को कोविड-19 वैक्सीन का पहला टीका लगाया गया। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी मौजूद रहे। कोरोना वैक्सीन को लेकर सभी आशंकाओं को दूर करने के लिए एम्स डॉयरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने भी कोरोना की वैक्सीन ली है।

 

 

सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक साथ शुरू होने वाले इस अभियान के लिए दोनों वैक्सीन देशभर में पहुंचाने का काम शुक्रवार तक तत्परता से जारी रहा। प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी बयान के अनुसार पूरे देश में एक साथ शुरू होने वाला यह अभियान विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान है।

यह भी पढ़ें: Corona Vaccine पर फैलाई जा रही भ्रांतियों से वैज्ञानिक-डॉक्टर दुखी, खुला खत लिख कहा ऐसा ना करें

 

 

टीका लगवाने वाले स्वास्थ्य कमियों से संवाद भी कर सकते हैं पीएम

पीएमओ के अनुसार शनिवार सुबह 10.30 बजे पीएम मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग (Video conferencing) के जरिये अभियान की शुरुआत करेंगे। पहले दिन देश भर में कुल 3006 केंद्रों पर एक साथ टीकाकरण शुरू होगा। एक केंद्र में एक सत्र में लगभग 100 लोगों को ही टीका लगाया जाएगा। हालांकि कुछ सूत्रों के अनुसार पीएम मोदी पहले दिन टीका लगवाने वाले चुनिंदा स्वास्थ्य कर्मियों से संवाद भी कर सकते हैं। दिल्ली के एम्स और सफदरजंग अस्पताल के अधिकारियों ने बताया कि उनके टीकाकरण केंद्र में दोनों ओर संवाद करने की व्यवस्था की गई है। पीएमओ के बयान में कहा गया कि पहले चरण में सरकारी और निजी क्षेत्र के स्वास्थ्य कर्मियों को वरीयता के आधार पर टीका लगाया जाएगा। इनमें समन्वित बाल विकास योजनाओं के कर्मचारी भी शामिल होंगे।

 

को-विन के अलावा 1075 नंबर की लाइन भी स्थापित

गौर हो कि इस माह की शुरुआत में भारतीय औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया की वैक्सीन कोविशील्ड को मंजूरी दी थी। साथ ही भारत बायोटेक की स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन के सीमित आपात इस्तेमाल पर भी सहमति दी थी। टीकाकरण अभियान को सुचारु रूप से चलाने और सारी व्यवस्थाओं पर ऑनलाइन नजर रखने के लिए सरकार ने को-विन नाम का प्लेटफार्म विकसित किया है। इसके जरिए देश भर में वैक्सीन की उपलब्धता, भंडारण तापमान और लाभान्वितों की जानकारी रियल टाइम पर ली जा सकेगी। पीएमओ के अनुसार टीकाकरण के काम में लगी मशीनरी के लिए को-विन बहुत मददगार होगा। इसके अलावा 24 घंटे काम करने वाली 1075 नंबर की लाइन स्थापित की जा रही है। इस नंबर पर फोन करके कोरोना, वैक्सीन और को-विन साफ्टवेयर से संबंधित सवालों के जवाब हासिल किए जा सकते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है