Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,853,870
मामले (भारत)
178,745,302
मामले (दुनिया)
×

कोरोना वैक्सीनेशन की नई गाइडलाइन, पॉजिटिव होने के कितने दिन बाद लगेगा टीका, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

NEGAVC द्वारा की गई संस्तुतियों को केंद्रीय स्वास्थ्य ने दी हरी झंडी

कोरोना वैक्सीनेशन की नई गाइडलाइन, पॉजिटिव होने के कितने दिन बाद लगेगा टीका, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जितनी तेजी से कोरोना (Corona) का प्रसार हो रहा है उतनी ही तेजी से कोरोना टीकाकरण के लिए नियम भी बदले जा रहे हैं। हाल ही में कोविशील्ड की दूसरी डोज की समयावधि बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह की गई थी। हालांकि कोवैक्सीन को लेकर ऐसे कोई भी नियम जारी नहीं हुए हैं। कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination New Guideline) के लिए लगातार जारी होने वाली नई गाइडलाइन (New Guideline) के कारण लोग भी कन्फ्यूजन की स्थिति में हैं। उधर, एक बार फिर कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर नई गाइडलाइन जारी हुई है। ऐसे में इस खबर में हम आपको बताएंगे कि कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) के लिए क्या नई गाइडलाइन जारी हुई।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में 18+ के लिए आज से शुरू हुआ टीकाकरण अभियान, सीएम जयराम ने किया शुभारंभ

कोरोना वैक्सीनेशन की गाइडलाइन (Vaccination New Guideline) को लेकर लोग सबसे ज्यादा कन्फ्यूज रहते हैं। ऐसे में आपको बिंदुवार हम बताएंगे कि आखिर कोरोना वैक्सीनेशन लेकर क्या नई गाइडलाइन जारी की गई है। सबसे ज्यादा लोगों के सवाल यह रहते हैं कि कोई कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद पॉजिटिव हो जाए तो उसे कब कोरोना का टीका लगवाना चाहिए। ऐसे में इस बाबत भी नई गाइडलाइन में चीजें साफ कर दी गई है।


 

 

क्या है नई केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की नई गाइडलाइन

1. कोरोना संक्रमित व्यक्ति को ठीक होने के तीन महीने बाद कोरोना वैक्सीन दी जाएगी।

2. यदि किसी व्यक्ति को SARS-2 COVID-19 हुआ था और उस व्यक्ति को SARS-2 मोनोक्लोनल एंटीबॉडी (Monoclonal Antibodies) या फिर प्लाज्मा दिया गया है, उन्हें भी अस्पताल से डिस्चार्ज होने के दिन से तीन महीने बाद ही कोरोना का टीका लगाया जाएगा।

3. ऐसे व्यक्ति जिन्हें कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है, लेकिन दूसरी डोज से पहले वो कोरोना संक्रमित हो जाते हैं। ऐसे व्यक्तियों को वैक्सीन की दूसरी डोज रिकवर होने के 3 महीने दी जानी चाहिए।

4. किसी बीमारी से अस्पताल में भर्ती किसी मरीज या आईसीयू देखभाल की आवश्यकता वाले किसी भी गंभीर बीमारी वाले व्यक्ति को भी कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए 4 से 8 सप्ताह तक रुकना होगा।

5. सरकार द्वारा नए निर्देशों में कहा गया है कि कोई व्यक्ति कोरोना वैक्सीन लेने के 14 दिनों के बाद रक्तदान करवा सकता है।

6. कोरोना से पीड़ित होने पर RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट आने पर व्यक्ति रक्तदान कर सकता है।

7. सभी स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए कोरोना वैक्सीन की सिफारिश कर दी गई है। ध्यान रहे यहां सिफारिश शब्द का इस्तेमाल किया गया है।

8. कोई व्यक्ति जो कोरोना का टीका लगवा रहा है उसे कोरोना टीकाकरण से पहले रैपिड एंटीजन टेस्ट (RAT) की जरूरत नहीं है।

आपको बता दें कि नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन (NEGAVC) ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ कोविड-19 टीकाकरण के संबंध में नई सिफारिशें की थीं। दरअसल ये सिफारिशों को कोरोना महामारी की उभरती स्थिति और वैश्विक वैज्ञानिक साक्ष्य और अनुभव पर आधारित हैं। इन पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी मुहर लगा दी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है