Covid-19 Update

56,751
मामले (हिमाचल)
54,976
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,525,452
मामले (भारत)
93,040,666
मामले (दुनिया)

Chargesheet: जोगिंद्रनगर में Corruption की File, राज्यपाल को भेजी

Chargesheet: जोगिंद्रनगर में Corruption की File, राज्यपाल को भेजी

- Advertisement -

गुलाब सिंह के नेतृत्व में एसडीएम से मिले दर्जनों नेता

Corruption: जोगिंद्रनगर। ऊहल प्रोजेक्ट, लोक निर्माण विभाग, सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग तथा मध्य हिमालयन जलागम परियोजना (वन) तथा जायका में भारी अनियमितताओं व भ्रष्टाचार की बात उठी है। यही नहीं अब इस सारे मामले की जांच करवाने को लेकर भी बीजेपी ने आवाज बुलंद कर दी है। पूर्व मंत्री व बीजेपी विधायक गुलाब सिंह ठाकुर ने पत्रकारवार्ता कर एक के बाद एक कई गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि जोगिंद्रनगर का ऊहल चरण तीन प्रोजेक्ट भ्रष्टाचार का अड्डा बना है और इसमें कई निर्माण कार्यों में भारी अनियमितताएं बरती जा रही हैं इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ब्यास वैली पावर कॉरपोरेशन के अधिकारियों द्वारा चंद ठेकेदारों को ही सारे काम दिए जा रहे हैं।

पत्रकार वार्ता से पहले बीजेपी अधिकारियों ने जोगिंद्रनगर विधानसभा हलके में कुछ विभागों में व्याप्त भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद व अनियमतताओं को लेकर बनाई गई चार्जशीट एसडीएम के जरिए महामहिम राज्यपाल को भेजी। इसके साथ ही गुलाब सिंह ठाकुर ने आरोप लगाया कि ऊहल प्रोजेक्ट में नियमों को किनारे करके खासकर एक ही पक्ष विषेश के चंद ठेकेदारों को कार्यों का आवंटन किया गया है और इसकी जानकारी प्रदेश सरकार ने विधानसभा में उन्हें दी है।

चुनिंदा लोगों को ही लेबर वर्क आर्डर में जगह

गुलाब सिंह ठाकुर ने कहा कि ऊहल प्रोजेक्ट में जो लेबर वर्क ऑर्डर पर रखी जा रही है उसमें कुछ चुनिंदा लोगों को ही रखा जा रहा है। टेंडर चंद लोगों को ही दिए जा रहे हैं, जबकि जो बड़े काम हैं उन्हें भी विभाजित करके कुछ विषेश व्यक्तियों को ही दिया जा रहा है, जिससे कार्यों की गुणवत्ता नहीं बन पाती तथा ऐसे में सरकारी धन का भी दुरूपयोग हो रहा है। गुलाब सिंह ठाकुर ने आरोप लगाया कि लोक निर्माण विभाग में भी अनियमितताएं बरती गई हैं। बड़े टेंडरों को विभाजित करके चुनिंदा चहेतों को लाभ पहुंचाया जा रहा है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा गया कि नेशनल हाईवे सब डिवीजन गुम्मा व बीएंडआर जोगिंद्रनगर के तहत जो काम आवंटित किए गए हैं उनमें अनेकों कार्यों में अनियमितताएं और सरकारी धन का दुरूपयोग किया गया है तथा इसकी जानकारी सरकार ने उनके विधानसभा में रखे गए प्रश्न के उत्तर में दी है। जोगिंद्रनगर में सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग में भी टेंडरों में अनियमितताएं हुई हैं।

हैंडपंप का जनता को नहीं कोई लाभ

वर्तमान सरकार के इशारे में लगाए गए अनेकों हैंडपंप बंद पड़े हैं और लोगों को उनका कोई लाभ नहीं मिल रहा। ऐसा करके सरकारी धन को चूना लगाया जा रहा है। चार्जशीट के हवाले से गुलाब सिंह ठाकुर ने कहा कि अपने चहेतों को लाभ देने के लिए पेयजल व सिंचाई योजनाओं में भी भारी अनियमितताएं व सरकारी धन का दुरुपयोग किया गया है, जिसका उदाहरण नेरी-बन कोटला और लांगणा, चुल्ला व लडभड़ोल क्षेत्र की योजनाएं हैं। गुलाब सिंह ठाकुर के अनुसार मिड हिमालयन व जायका परियोजना में भी भारी अनियमितताओं के होने के आरोप चार्जशीट में लगाए गए हैं।

इनमें सरकारी धन का जबर्दस्त दुरुपयोग बताया गया है। चार्जशीट देते समय गुलाब सिंह के साथ चार्जशीट कमेटी के अध्यक्ष कश्मीर सिंह राजपूत, मंडल अध्यक्ष दलीप सिंह राणा, महामंत्री अजय सकलानी, तेज सिंह, गोपाल ठाकुर, अजय सूद व पूर्व मंडल अध्यक्ष सूरत राम ठाकुर आदि भी उपस्थित रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है