Expand

Kullu में Charas तस्करों को 10- 10 साल की सजा व जुर्माना

दंदासे की बरामदगी के मामले में भी मिली अदालत से सजा

Kullu में Charas तस्करों को 10- 10 साल की सजा व जुर्माना

- Advertisement -

कुल्लू। जिला कोर्ट में स्पेशल जज राकेश चौधरी की अदालत ने चरस तस्करी के मामले में तस्कर को दस साल कारावास और एक लाख रुपए जुर्माने सजा सुनाई है। इस के अलावा एक अन्य मामले में दोषी को वन अधिकार-379 कानून के तहत एक साल की सजा व 2000 हजार रुपए के जुर्माने की भी सजा सुनाई है। 21 फरवरी 2014 को पुलिस ने गगन कुमार पुत्र राजेंद्र पाल निवासी शिशामटी, कुल्लू की कार में 338 किलो दंदासा खेप पकड़ी थी। इसके दौरान आरोपी के गोदाम की तलाशी लेने पर 7 किलो चरस भी बरामद की थी। साथ ही हरीश कुमार पुत्र सुरेंद्र निवासी लारनकेलो, भगतराम पुत्र शिव कुमार निवासी कांदीचा, शालग व आत्माराम पुत्र मोहर सिंह निवासी हिमरी को को भी मामले में संलिप्त पाया गया था।

तीनों को कोर्ट ने 7500 जुर्माने की सजा सुनाई है। जिला न्यायवादी नेत्र सिंह कटोच ने कहा कि पुलिस पार्टी ने 21 फरवरी को 2014 को मौहल के पास चैकिंग के दौरान 338 किलो दंदासा की खेप पकड़ी थी और उसके बाद गोदाम में तलाशी के दौरान 7 किलो चरस बरामद की थी। विशेष जज राकेश चौधरी की अदालत ने चरस तस्करी मामले में 19 गवाहों के आधार पर आरोपी गगन को दोषी करार दिया और दस साल की सजा और एक लाख रुपए का जुर्माना किया जबकि दंदासे की बरामदगी के मामले में वन अधिकारी कानून 379 में एक साल की सजा व 2000 रुपए का जुर्माना हुआ है। इस मामले में अन्य तीन आरोपियों को 7500 रुपए जुर्माने की सजा हुई है।

दस साल की सजा और एक लाख जुर्माना

एक अन्य मामले में कुल्लू जिला कोर्ट में अतिरिक्त सेशन जज जीया लाल आजाद की अदालत ने चरस तस्कर को दस साल कठोर कारावास और एक लाख जुर्माने सजा सुनाई। जुर्माना अदा न करने पर दोषी को एक साल का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। छप्पे राम, निवासी देऊठा, बंजार के पास पुलिस टीम ने गश्त के दौरान 1 अप्रैल को 2014 को घारटगढ़ नाला के पास तलाशी के दौरान डेढ किलो चरस बरामद की थी। इस मामले में अदालत ने 6 गवाहों के बयान के आधार पर आरोपी को सजा सुनाई। जिला उपन्यायवादी पंकज धीमान ने कहा कि अतिरिक्त सेशन जज जीया लाल आजाद की अदालत ने 6 गवाहों के आधार पर दोषी करार दिया और आरोपी को दस साल की सजा और एक लाख जुर्माना की सजा सुनाई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Advertisement
Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Advertisement

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है