×

नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को सात साल का कठोर कारावास, 30 हजार जुर्माना

नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को सात साल का कठोर कारावास, 30 हजार जुर्माना

- Advertisement -

नाहन। जिला एवं सत्र न्यायाधीश सिरमौर (Sirmaur) देविंदर कुमार शर्मा की अदालत (Court) ने नाबालिग से दुराचार के दोषी (Minor Rape case) को सात साल के कठोर कारावास और 30 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना अदा न करने की सूरत में दोषी को एक साल का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।


यह भी पढ़ें: नगरोटा बगवां में बैल से टकराई बाइक, ज्वाली में स्किड- दो की मौत

 

बुधवार को मामले की पैरवी सरकार की ओर से जिला न्यायवादी एमके शर्मा ने की। उन्होंने बताया कि दुराचार के दोषी सुपा राम निवासी पिपनोर, पीओ गवाली , शिलाई को अदालत ने दोषी करार दिया है। मामले की जानकारी देते हुए जिला न्यायवादी ने बताया कि दोषी सुपाराम ने पीड़िता से दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था।

उन्होंने बताया कि दोषी 16 सितंबर, 2016 नाबालिग को कफोटा से शादी का झांसा देकर उत्तराखंड के विकासनगर ले गया था। जहां से वे पांवटा सराय पहुंचे। यहां दोषी ने नाबालिग से दुष्कर्म किया। इसके बाद दोषी ने पीड़िता को ये कहकर शादी से इनकार कर दिया कि वह पहले ही शादीशुदा और दो बच्चों का बाप है।

लिहाजा, दोषी ने पीड़िता को बस स्टैंड (Bus Stand) पर छोड़ दिया। पांवटा बस स्टैंड पर अकेला छोड़ने के बाद जब पीड़िता रोने लगी तो उसे पुलिस स्टेशन पांवटा ले जाया गया। अभियोजन पक्ष के भाई और मां को पुलिस ने पांवटा साहिब में बुलाया और पुलिस स्टेशन पांवटा साहिब में आरोपी व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। इस मामले में आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

मामले की जांच तत्कालीन एएसआई अशोक कुमार ने पुलिस स्टेशन पांवटा साहिब (Paonta Sahib) के जांच अधिकारी द्वारा की गई। जांच पूरी होने के बाद एक चालान तैयार किया गया और न्यायिक फैसले के लिए अदालत में रखा गया। सुनवाई के दौरान अदालत के समक्ष 18 गवाह पेश किए गए। मामले में दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने आईपीसी की 376 और पॉक्सो एक्ट के तहत आरोपी को दोषी करार देते हुए ये सजा सुनाई।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है