Covid-19 Update

57,121
मामले (हिमाचल)
55,591
मरीज ठीक हुए
958
मौत
10,623,920
मामले (भारत)
97,568,114
मामले (दुनिया)

उत्तराखंड की जेलों में Covid-19 का उत्पात: ढा़ई सौ से अधिक कैदी पॉजिटिव; नेगेटिव कैदी ही जा रहे जेल

महज एक सप्ताह के अंदर ही 206 कैदी पॉजिटिव मिल चुके हैं

उत्तराखंड की जेलों में Covid-19 का उत्पात: ढा़ई सौ से अधिक कैदी पॉजिटिव; नेगेटिव कैदी ही जा रहे जेल

- Advertisement -

देहरादून। देश भर में जारी कोरोना वायरस के कहर के बीच पहाड़ी राज्यों में भी इस महामारी ने कोहराम मचा रखा है। उत्तराखंड (Uttarakhand) के हाल कोरोना के कारण बहुत खराब चल रहे हैं। अबतक प्रदेश में 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इस सब के बीच खबर आई है कि उत्तराखंड की जेलों में भी कोरोना वायरस जमकर उत्पात मचा रहा है। उत्तराखंड के सितारगंज सेंट्रल जेल (Sitarganj Central Jail) में लगातार बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या ने शासन-प्रशासन को चिंता में डाल दिया है। बुधवार को 95 कैदियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आंकड़ों पर गौर करें तो महज एक सप्ताह के अंदर ही 206 कैदी पॉजिटिव मिल चुके हैं।

अंडरवर्ल्ड डॉन पीपी पांडये भी संक्रमित हुआ

वहीं, अगर अबतक सामने आए कुल मामलों की बात की जाए तो अबतक कुल 250 से अधिक कैदी जेल में पॉजिटिव मिल चुके हैं। पॉज़िटिव पाए गए लोगों में दो-तीन जेल स्टाफ के लोग भी शामिल हैं।एक सप्ताह पहले पॉजिटव मिले 74 कैदियों को तो जैसे-तैसे रुद्रपुर-काशीपुर रोड पर स्थित आनंदा होटल में आइसोलेट कर दिया गया था। तब ही जेल और स्थानीय प्रशासन ने दबी जुबान में ये बात स्वीकारी थी कि इसके बाद अब यदि पॉजिटिव कैदी मिलते हैं तो उन्हें आइसोलेट करने में काफी समस्या आएगी। अब जबकि 74 के बाद 132 कैदी और पॉजिटिव मिल चुके हैं तो आइसोलट करने के साथ ही उनकी निगरानी की बड़ी समस्या खड़ी हो गई।

यह भी पढ़ें: CM योगी का धाकड़ फैसला- चौराहों पर लगेंगे रेपिस्ट और मनचलों के पोस्टर, महिला पुलिस ही देगी सजा

सितारगंज जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे अंडरवर्ल्ड डॉन पीपी पांडये भी संक्रमित हुआ था। डॉन पीपी पांडेय को आनंदा होटल से वापस जेल लेकर आ गए हैं। वहीं, खबर मिली है कि कोरोना निगेटिव बंदियों को अब कोविड प्रिवेंशन डिटेंशन सेंटर (अस्थाई जेल) में निर्धारित क्वारंटीन अवधि (28 दिन) तक नहीं रखा जाएगा। रिपोर्ट आने के तत्काल बाद ही उन्हें मुख्य जेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा। इस संबंध में आईजी जेल ने प्रदेश के जेल अधीक्षकों को निर्देश जारी किए हैं। पूर्व में हुई चूकों की पुनरावृत्ति से बचा जा सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है