×

Covid-19 : आयुष मंत्रालय ने दी गर्म पानी पीने, योग करने, च्यवनप्राश खाने जैसी सलाह; जानें

Covid-19 : आयुष मंत्रालय ने दी गर्म पानी पीने, योग करने, च्यवनप्राश खाने जैसी सलाह; जानें

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत (India) में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 1,637 हो गई है। साथ ही देश में अब तक कोरोना वायरस से 38 लोगों की मौत हो चुकी है। डेटा के अनुसार, कुल मामलों में से 1,466 सक्रिय हैं जबकि 133 लोग ठीक/डिस्चार्ज/माइग्रेट हो चुके हैं। वहीं मौजूदा हालत को देखते हुए केन्द्रीय आयुष मंत्रालय ने कोरोना वायरस के मद्देनजर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए एहतियाती स्वास्थ्य उपायों के तौर पर अपनी देखभाल के लिए कुछ दिशा निर्देश दिए हैं।


मंत्रालय ने कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए गर्म पानी पीने, रोज़ कम-से-कम 30 मिनट योगाभ्यास, प्रणायाम व ध्यान लगाने, खाने में हल्दी, ज़ीरा, धनिया व लहसुन के इस्तेमाल की सलाह दी है। मंत्रालय ने इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए च्यवनप्राश खाने, हर्बल चाय या तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, सूखी अदरक और किशमिश का काढ़ा पीने की सलाह दी है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘कोविड-19 के चलते दुनियाभर में सभी लोग प्रभावित हैं। अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखने में शरीर की प्राकृतिक रक्षा प्रणाली को मजबूत करना अहम भूमिका निभाता है।’ इसमें कहा गया है, ‘हम सभी जानते हैं कि इलाज से बेहतर रोकथाम है। अभी तक चूंकि कोविड-19 के लिए कोई दवा नहीं है तो अच्छा होगा कि ऐसे एहतियाती कदम उठाए जाए जो इस वक्त में हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं।’

मंत्रालय ने सुबह और शाम दोनों नथुने में तिल या नारियल का तेल या घी लगाने जैसे कुछ आसान आयुर्वेदिक उपाय भी सुझाए हैं। सूखी खांसी या गले में सूजन के लिए उसने दिन में एक बार पुदीने की ताजा पत्ती या अजवाइन के साथ भांप लेने की सलाह दी है और खांसी या गले में खराश के लिए दिन में दो-तीन बार प्राकृतिक शक्कर या शहद के साथ लौंग का पाउडर लेने के लिए भी कहा है। मंत्रालय ने कहा कि इन उपायों से आम तौर पर सामान्य सूखी खांसी या गले में सूजन कम होती है। हालांकि अगर लक्षण फिर भी बने रहते हैं तो डॉक्टर की सलाह लेना बेहतर है। उसने कहा कि देशभर के प्रतिष्ठित डॉक्टरों ने इन उपायों का सुझाव दिया है क्योंकि ये संक्रमण के खिलाफ व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा सकते हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है