Covid-19 Update

1,53,717
मामले (हिमाचल)
1,11,878
मरीज ठीक हुए
2185
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

आरोपः Shimla की जनता पर आर्थिक बोझ डाल रही Municipal Corporation

आरोपः Shimla की जनता पर आर्थिक बोझ डाल रही Municipal Corporation

- Advertisement -

माकपा ने बोला हमला, शहर की हालत जान बुझकर खराब कर रही बीजेपी

शिमला। नगर निगम शिमला द्वारा गारबेज कलेक्शन की दरों में की गई बढ़ोतरी और प्रापर्टी टैक्स में प्रस्तावित वृद्धि पर लोगों का गुस्सा बढ़ना शुरू हो गया है। नगर निगम पर काबिज होने के छह माह की अवधि के भीतर जनता पर आर्थिक बोझ डालने का माकपा ने कड़ा विरोध किया है। माकपा का आरोप लगाया है कि बीजेपी शासित नगर निगम शहरवासियों पर आर्थिक बोझ डाल रही है और यह बीजेपी के अच्छे दिनों की शुरूआत है। माकपा का आरोप है कि बीजेपी शासित नगर निगम जानबूझकर हालात खराब करने की कोशिश कर रही है, ताकि कूड़ा उठाने का कार्य निजी हाथों में दिया जा सके। माकपा के पूर्व मेयर संजय चौहान ने कहा कि नगर निगम की मासिक बैठक में अधिकतर सदस्यों के विरोध के बावजूद नगर निगम के महापौर, उप महापौर और नगर निगम प्रशासन ने गारबेज की दरों में वृद्धि कर दी। उन्होंने कहा कि नगर निगम अपने स्तर पर कोई फैसला नहीं ले सकती।


यह भी पढ़ें…कूड़ा समझ कचरे के ढेर में फेंक दिए 12 Lakh रुपए, फिर उड़ गए होश

कूड़ा एकत्र करने की दरों को बढ़ाने का फैसला सैहब सोसायटी की एजीएम ही ले सकती है। ऐसे में नगर निगम अपने स्तर पर इसे लेकर कोई फैसला नहीं ले सकती। उनका आरोप है कि बीजेपी चाहती है कि शहर में गारबेज कलेक्शन का कार्य उनके चहेते ठेकेदारों को सौंपा जाए, इसलिए शहर में कई-कई दिनों से कूड़ा नहीं उठ रहा और फिर सिस्टम को फेल कर इसे निजी हाथों को सौंपा जाए।


सैहब सोसायटी में अच्छा काम हो रहा है

चौहान ने कहा कि सैहब सोसायटी के तहत अच्छा काम हो रहा है, लेकिन निगम प्रशासन का इस तरफ कोई ध्यान नहीं है। उनका कहना था कि नगर निगम प्रशासन सैहब सोसायटी कर्मचारियों को भी सुविधाएं नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित नगर निगम के महापौर, उप महापौर और प्रशासन उल्टा सोसायटी के कर्मचारियों से जानबूझ कर कथित तौर पर दुर्व्यहार कर रहे हैं और इस सोसायटी को उसके मिशन में असफल करने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि माकपा इसका कड़ा विरोध करती है और इसके खिलाफ लड़ाई लड़ेगी। माकपा नेता चौहान ने कहा कि नगर निगम की सैहब सोसायटी के माध्यम से कूड़ा उठाने की मंंशा ही नहीं है। इसलिए शहर में कई-कई दिनों से कूड़ा नहीं उठाया जा रहा है। उनका कहना था कि डंपर कूड़े से भरे हैं और उसे भी नहीं उठाया जा रहा। इसे देखते हुए उनकी मांग है कि शहर में कूड़ा उठाने के कार्य को दुरूस्त किया जाए और ठेकेदारी प्रथा को छोड़कर सैहब सोसायटी से ही यह कार्य करवाया जाए और हर दिन कूड़ा उठना सुनिश्चित बनाया जाए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है