×

बढ़ती महंगाई पर सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरी सीपीआईएम, किया प्रदर्शन

बढ़ती महंगाई पर सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरी सीपीआईएम, किया प्रदर्शन

- Advertisement -

मंडी। देश में लगातार बढ़ती महंगाई के विरोध में सीपीआईएम ने प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन किया। इसी कड़ी में मंडी में भी कम्यूनिस्ट पार्टी ने प्याज की बढ़ी कीमतों को लेकर शहर के सेरी मंच पर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने केन्द्र व प्रदेश की सरकारों के विरोध में नारे लगाए। सीपीआईएम ने बढ़ती महंगाई (Rising inflation) के लिए सीधे तौर पर केन्द्र व प्रदेश की सरकारों को जिम्मेदार ठहराया। सीपीआईएम का आरोप है कि सरकार लोगों को सुविधाएं देने के बजाए आए दिन महंगाई के तले दबाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने केन्द्र सरकार से महंगाई को कम करने की मांग उठाई है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें… 

सीपीआईएम (CPIM) ने हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ घटी दुर्घटना को लेकर भी केन्द्र सरकार को घेरा है। सीपीआईएम ने केन्द्र सरकार से पूछा है कि उन दावों का क्या हुआ जो केन्द्र सरकार महिला सुरक्षा को लेकर करती आ रही है। इस दौरान सीपीआईएम के जिला सचिवालय सदस्य सुरेश सरवाल ने कहा कि प्रदेश की सरकार मंहगाई पर लगाम लगाने में असफल रही है। जिसके कारण आज प्रदेश में प्याज के दाम आसमान छू रहे हैं और अन्य खाद्य वस्तुओं के दामों में भी वृद्धि हो रही है। इसके साथ ही उन्होने कहा कि देश में महिलाओं के साथ घट रही घटनाएं चिंताजनक है व सरकार को इसके खिलाफ कुछ ठोस कदम उठाने चाहिए।

नाहन में सीपीआईएम का हल्ला बोल

नाहन। खाद्य वस्तुओं सहित पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में सीपीआईएम जिला सिरमौर कमेटी ने मंगलवार को नाहन में जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने डीसी आफिस में धरना देते हुए केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की, साथ ही डीसी सिरमौर के माध्यम से एक ज्ञापन देश के राष्ट्रपति को भेज उचित कदम उठाने की मांग की गई। सीपीआईएम के जिला सचिव राजेंद्र ठाकुर ने कहा कि आज महंगाई आसमान छू रही है। खाद्य वस्तुओं के साथ-साथ पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार वृद्धि हो रही है। पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस आदि पैट्रोलिम पदार्थो पर सरकारों द्वारा वेट बढ़ाए जाने से कीमतें और अधिक बढ़ रही है। इसके कारण खाद्य वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी होना स्वभाविक सी बात है।

इसके अलावा खाद्य वस्तुएं जैसे दाल, लहसुन, प्याज और सब्जियों की कीमतों में भी बेतहाशा वृद्धि हो रही है। इसका कारण एक तो परिवहन का महंगा होना व दूसरा इस प्रकार की खाद्य वस्तुओं के भंडारण का सरकार द्वारा उचित प्रबंध न करना है। उन्होंने बताया कि ज्ञापन में तीन प्रमुख रूप से मांग की गई है, जिसके तहत सार्वजनिक क्षेत्र में निवेश को बढ़ाने, बढ़ती कीमतों में कटौती करने व खाद्य वस्तुओं की कीमतों को कम करने की गुहार लगाई गई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है