Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

लालबत्ती-VIP कल्चर पर नीरज ने गर्वनर को घेरा

लालबत्ती-VIP कल्चर पर नीरज ने गर्वनर को घेरा

- Advertisement -

VIP Culture : चंडीगढ़। हिमाचल की वीरभद्र सरकार में सीपीएस नीरज भारती ने आज अपने से जुड़ा एक किस्सा शेयर किया है। किस्सा वीआईपी कल्चर से जोड़कर लाल बत्ती तक जाता है। बात हिमाचल भवन चंडीगढ़ से जुड़ी है, नीरज लिखते हैं कि किस्सा आज का…क्या सिर्फ लाल बत्ती को खुद अपनी गाड़ी से उतार कर और फोटो खिंचाकर वीआईपी कल्चर खत्म हो गया…।

उन्होंने लिखा है कि बात आज दोपहर की है जब मैं अपने परिवार के साथ हिमाचल भवन चंडीगढ़ में रुका हुआ था, रविवार होने के कारण अति सुस्ती में था और अभी तैयार नहीं हुआ था। उसी वक्त रिसेप्शन से फोन आया और कहा कि आपको आपकी गाड़ी सामने वाली पार्किंग से हटाने को कहा जा रहा है। मैंने पूछा क्यों क्या हुआ तो पता चला कि रिसेप्शन से बोल रहे हैं कि गर्वनर आ रहे हैं। मैंने कहा कि हटा दीजिए गाड़ी की चाबी रिसेप्शन पर ही है।


VIP Culture : गर्वनर के लिए लिफ्ट रोकने पर उठाया सवाल

उसके बाद जब हम नीचे रिसेप्शन पर पहुंचे तो पता चला कि लिफ्ट भी उनके लिए काफी देर से रोकी हुई थी, उसी वक्त गर्वनर भी आ गए। मैंने सोचा कि चलो एक विधायक होने के नाते उन्हें नमस्कार भी कर दें। पर उनके आगे चले हुए 10-15 पुलिस वालों ने जिसमें से अधिकतर हिमाचल पुलिस के थे, उन्होंने मेरे कंधे पर हाथ रखकर साइड में होने के लिए कह दिया फिर मैंने उन्हें कहा भी कि विधायक हूं और मुख्य संसदीय सचिव भी हूं, तब भी उन पुलिस कर्मियों ने बदतमीजी कर के बगल में हो जाने को कहा। जब हिमाचल पुलिस के जवानों ने मुझे साइड में करने के लिए धक्का दिया, उस वक्त एक 6 महीने का बच्चा भी मेरी गोद में था।

VIP Culture : लालबत्ती उतारते हुए फोटो खिंचवा कर क्या वीआईपी कल्चर खत्म

कहने का तात्पर्य ये है कि क्या खुद अपनी गाड़ी से लाल बत्ती उतार कर और फोटो खिंचवा कर लोगों को दिखा कर वीआईपी कल्चर का खात्मा हो गया क्या…।

अगर गर्वनर वीआईपी नहीं है तो सामने वाली पार्किंग में खड़ी गाड़ी को क्यों हटाया गया, लिफ्ट क्यों रोकी गई, जबकि चंडीगढ़ के हिमाचल भवन को हिमाचल पर्यटन विकास निगम के द्वारा संचालित किया जाता है और इसके कमरे सिर्फ स्टेट गेस्ट हाउस के अलावा अन्य पर्यटकों को भी किराये पर दिए जाते हैं तो बाकि रुके हुए लोगों को लिफ्ट यूज करने से क्यों रोका गया। जब गर्वनर से बात करने की कोशिश की गई तो उन्हें प्रदान की गई हिमाचल पुलिस की सिक्योरिटी ने जो बद्दतमीजी की और धक्का दिया वो भी तब जब एक छोटा बच्चा गोद में था, तो क्या एक लाल बत्ती उतार कर और फोटो खिंचवा कर वीआईपी कल्चर खत्म हो गया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है