धर्मशाला : फेसबुक पर विदेशी महिला से दोस्ती पड़ी महंगी, टैक्सी ड्राइवर से 40 हजार रुपए ठगे

कस्टम ड्यूटी के नाम पर ट्रांसफर करवाए रुपए

धर्मशाला : फेसबुक पर विदेशी महिला से दोस्ती पड़ी महंगी, टैक्सी ड्राइवर से 40 हजार रुपए ठगे

- Advertisement -

धर्मशाला। बैंक फ्रॉड करने वाले ठगों ने सोशल मीडिया को नया ठिकाना बना लिया है। जैसे-तैसे लोग ओटीपी के जरिए हो रही ठगी से जागरूक हुए तो अब ठगों ने फेसबुक से ठगी शुरू कर दी। फेसबुक (Facebook) पर विदेशी बनकर ठग दोस्ती करते हैं, फिर इंडिया आने की बात कर कस्टम में फंसे होने की बात कह कर लोगों को शिकार बनाते हैं। धर्मशाला में धोखाधड़ी का एक ऐसा ही मामला सामने आया है। धर्मशाला के एक टैक्सी ड्राइवर को फेसबुक पर बनी विदेशी महिला दोस्त ने 40 हजार रुपए की चपत लगा दी। महिला ने कस्टम ड्यूटी (custom duty) के नाम पर टैक्सी ड्राइवर से 38 हजार 900 रुपए ठग लिए। हजारों रुपए अपने अकाउंट में ट्रांसफर करवाने के बाद महिला ने मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया। धर्मशाला पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर लिया है और जांच की जा रही है।


ये भी पढ़ें : पैदल चल रही महिला पर पलटा सेब और नाशपाती से भरा ट्रक, मौत

जानकारी के अनुसार धर्मशाला के टैक्सी ड्राइवर बशीर अहमद का फेसबुक पर विदेशी महिला जेम्स रेजॉइस के साथ संपर्क हुआ। दोनों में कई दिनों तक फेसबुक व व्हाट्सएप (Whatsapp) पर चैटिंग भी हुई। जेम्स रेजॉइस ने उसे बताया कि वह इंडिया आ रही है। उसने अपना इंडियन वीजा का फोटो भी भेजा। 26 जुलाई को बशीर अहमद को जेम्स रेजॉइस ने बताया कि वो इंडिया आई है, लेकिन उसकी कस्टम क्लीयरेंस नहीं हो रही। बशीर अहमद के मोबाइल पर कॉल आई और कॉलर महिला ने खुद को दिल्ली हवाई अड्डे पर कस्टम अफसर बताते हुए कहा कि उनकी मित्र जेम्स रेजॉइस कस्टडी में है। वह विदेशी सामान बिना टैक्स चुकाए लाई है। कॉलर महिला ने बशीर अहमद की उनकी विदेशी महिला मित्र जेम्स रेजॉइस से भी बात कराई। जेम्स रेजॉइस ने एयरपोर्ट पर टैक्स की रकम चुकाने के लिए दोस्ती का हवाला देते हुए रुपये मांग लिए और कहा कि उसे 38 हजार 900 रुपए देने होंगे।

 

यही नहीं जेम्स रेजॉइस ने 26 जुलाई को दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Delhi International Airport) से बाहर आते हुए का फोटो भी व्हाट्सअप किया जिससे टैक्सी ड्राइवर को विश्वास हो गया कि जेम्स रेजॉइस इंडिया पहुंच चुकी है और वो मुसीबत में है। पहले तो बशीर अहमद टैक्सी लेकर स्वयं दिल्ली जाने लगा पर जेम्स रेजॉइस ने उसे पहले रुपए भेजने की बात कही। जिस पर बशीर अहमद ने जेम्स रेजॉइस द्वारा राजीव शर्मा के बताए बैंक अकाउंट में 38 हजार 900 हजार रुपए जमा करवाए। कुछ ही समय के बाद फिर विदेशी महिला की कॉल आई। उसने कहा कि फंड ट्रांसफर करने के लिए और रुपए चाहिए। बशीर को इस ठगी का अहसास तब हुआ जब महिला ने मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया। जिन नंबरों से कैश जमा करवाने के लिए कॉल आई थी वे भी बंद हो गए। बशीर अहमद ने जिसमें कैश जमा करवाया ये अकाउंट नंबर उत्तर प्रदेश के बरेली के बैंक ऑफ़ बड़ोदा शाखा के हैं।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

हिमाचल पर्यटन नीति-2019 अधिसूचित, वेब पोर्टल पर लें जानकारी

एनसीसी समूह की साइकिल रैली रवाना, राज्यपाल ने हरी झंडी दिखाई

होटलों की जीएसटी दरों के युक्तिकरण का हिमाचल को होगा फायदा

गोवा में हुई जीएसटी परिषद की बैठक में बिक्रम ठाकुर ने रखी यह बात

गुरकीरत सिंह बोले-वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ बयानबाजी अनुशासनहीनता

बीबीएमबी प्रोजेक्ट्स में हिमाचल को पूर्ण सदस्य बनाया जाए: सीएम जयराम

प्रदेश में झमाझम बारिश के साथ हुआ हिमपात, जाने अगले 6 दिन के मौसम के हाल

लॉ यूनिवर्सिटी के छात्रों ने परिसर में सामान रख बोला हल्ला, एबीवीपी देगी साथ

रायजादा के बयान पर सतपाल सत्ती का पलटवार, कहीं यह बात

गोहर में सिंचाई के लिए बने टैंक में मिला मृत तेंदुआ

रायजादा ने पूछा, सीआईडी जांच रिपोर्ट सत्ती के पास कहां से आई

वीरभद्र सिंह पीजीआई में स्वस्थ, बोले - "ठीक हूं, जल्द शिमला लौटूंगा"

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आया अब तक का बड़ा उछाल, मुंबई में 78 के पार

छात्रा यौन शोषण केस का आरोपी चिन्मयानंद गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

बसाहीधार में गिरी कार, नगरोटा बगवां के दो युवकों की मौत, 2 घायल

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है