कालाअंबः बैटरी बनाने वाली कंपनी से 29 लाख की ठगी, मुख्य सरगना सहित 4 धरे

नाहन साइबर सेल और कालाअंब पुलिस स्टेशन की टीम ने गिरफ्तार किए आरोपी

कालाअंबः बैटरी बनाने वाली कंपनी से 29 लाख की ठगी, मुख्य सरगना सहित 4 धरे

- Advertisement -

नाहन। सिरमौर स्थित औद्योगिक क्षेत्र कालाअंब (Industrial Area Kala Amb) में बैटरी बनाने वाली एक कंपनी (Battery Company) से 29 लाख की ठगी हुई है। ठगी गिरोह (Fraud Gang) ने इस मामले को अंजाम दिया है। कालाअंब पुलिस स्टेशन में ठगी का मामला दर्जकर हुआ है। मामला दर्ज होने के बाद नाहन साइबर सेल (Nahan Cyber ​​cell) और कालाअंब पुलिस स्टेशन की टीम ने गिरोह को तीन सदस्यों को धर दबोचा। उसके बाद गिरोह के मुख्य सरगना को कोलकाता (Kolkata) के बर्राकपोर से गिरफ्तार कर लिया है।


यह भी पढ़ें: अपमान से आहत बिलासपुर के 93 वर्षीय स्वतंत्रता सैनानी ने छोड़ा खाना-पीना

 

 

बता दें कि कालाअंब में स्थित बैटरी की एक फैक्ट्री में पुरानी बैटरियों को खरीद कर उनमें से लेड (सिक्के) को निकालकर दोबारा प्रयोग करने लायक बनाया जाता है। कंपनी के मालिक को ठग गिरोह द्वारा फोन करके पुरानी बैटरी 70 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बेचने के बारे में बतलाया गया। कंपनी मालिक ने फायदे का सौदा होने के चलते इसमें दिलचस्पी दिखाई। उसने बैटरियां खरीदने के लिए हां कर दी। बैटरियों का कुल वजन 40 मीट्रिक टन के आस पास था, जिसकी कीमत लाखों में थी।  गिरोह  ने मालिक को विश्वास में लेने के लिए जीएसटी नंबर व कुछ अन्य कागजात भी भेजे व ट्रक में लोड बैटरियां की फोटो भी भेजी।

यह भी पढ़ें:  45 हजार रिश्वत लेते धरे डीएसपी जवाली, विजिलेंस की टीम ने दबोचा

यह भी पढ़ें: बीएड धारक शास्त्री अध्यापकों को टीजीटी संस्कृत री-डेजीग्नेट करने पर होगा विचार

इसके बाद मालिक को राशि बैंक खाते में डलवाने के लिए कहा, जिस पर कंपनी मालिक (Company Owner) ने ठगों के कहने पर अलग अलग किश्तों में कुल 29 लाख रुपए उनके खाते में डाल दिए। पर कई दिन बीत जाने के बाद भी बैटरियों की डिलीवरी नहीं मिली। मालिक ने मोबाइल नंबर (Mobile Number) पर संपर्क किया तो फोन बंद आ रहा था। इस पर मालिक को ठगी का आभास हुआ। कंपनी मालिक ने थाना कालाअंब में मामले की शिकायत दी। शिकायत के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया।

 

 

साइबर सेल नाहन व थाना कालाअंब की टीम ने सभी आवश्यक कार्रवाई को अमल में लाते हुए इस गैंग के मुख्य सरगना प्रशांत गुप्ता को कोलकाता के बर्राकपोर से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इसके अन्य तीन साथी विकास गुप्ता, पंकज पांडे व कमल कुमार गुप्ता पहले ही पुलिस की गिरफ्त में हैं। टीम में थाना कालाअंब से मुख्य आरक्षी बलबीर सिंह, आरक्षी जितेंद्र, साइबर सेल नाहन से आरक्षी सुरेंद्र दत्त और अमरेंद्र सिंह शामिल थे।

यह भी पढ़ें: स्कूली बच्चों की मारपीट का वीडियो वायरल, एसपी मंडी ने दिए जांच के आदेश

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कांगड़ा और ऊना में कार्यरत पंजाब के इन कर्मचारियों को अवकाश घोषित

काम में कौताही पर पंचायत प्रधान और वार्ड सदस्य बर्खास्त

संतोषगढ़ के चौकी प्रभारी लाइन हाजिर, एसपी के आदेशों को हल्के में ले रहे थे

सेल्फी ले रही दो सहेलियां पार्वती नदी में बही, एक बच निकली दूसरी का अता-पता नहीं

शांता क्यों बोले ,जीवन के अंतिम पड़ाव पर मुझे किसी से भी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं

धूमल बोलेः कागजी सवाल करते हैं कांग्रेसी, कागजों में बनती है राजधानी

ऊना में नशा माफियाः अवैध शराब, चरस और प्रतिबंधित दवाओं सहित दो धरे

महिला मौत मामलाः एसएचओ हमीरपुर ने शव ले जा रहे लोगों पर क्यों तानी पिस्टल, होगी जांच

रातों रात सड़क पर कर डाला कब्जा, विभाग ने भेजा नोटिस

शराब की बोतल हाथ में लेकर छात्राओं के सामने टिक टॉक वीडियो बनाता गया कॉलेज कर्मी

मुकेश बोले, धर्मशाला दूसरी राजधानी है,सत्ता में लौटते ही उठाएंगे व्यापक कदम

दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय

टैक्सी चालक हत्या मामले में परिजनों ने मंडी-पठानकोट एनएच पर किया चक्का जाम

पच्छाद उपचुनाव : डैमेज कंट्रोल के लिए खुद प्रचार में उतरे सीएम, बडू साहिब गुरुद्वारे में नवाया शीश

पहले किया हमला फिर लगाई आग, पति-पत्नी की मौत, बेटी गंभीर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है