Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,440,951
मामले (भारत)
195,407,759
मामले (दुनिया)
×

शरद नवरात्रः प्रदेश के शक्तिपीठों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

शरद नवरात्रः प्रदेश के शक्तिपीठों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी। प्रदेश के सभी शक्तिपीठों में प्रथम शरद नवरात्र के अवसर पर भक्तों का भीड़ उमड़ी। सुबह मंदिरों के कपाट खुलने के साथ ही भक्त मां के दर्शनों के लिए पहुंचे। प्रथम नवरात्र में आज माता शैलपुत्री की पूजा की जा रही है। मां चिंतपूर्णी , ज्वालाजी, मां चामुंडा , मां बज्रेश्वरी, व मां नैना देवी के मंदिरों में सुबह विधिवत पूजा अर्चना की गई और इसके बात श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। सभी मंदिरों को देश-विदेश से लाए गए अलग-अलग किस्मों के फूलों से सजाया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से पूरी चेकिंग के बाद ही यात्रियों को मंदिरों के भीतर प्रवेश दिया जा रहा है साथ ही सीसीटीवी कैमरों की भी पूरी नजर रहेगी।

 


यह भी पढ़ें :- नवरात्र में मां को खुश करना है तो भूल कर भी न करें ये गलतियां, जानें

 

नैना देवी में सुबह की आरती और झंडा चढ़ाने की रस्म के साथ नवरात्र का आगाज हुआ। सुबह से ही मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा, काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने नवरात्र पूजन किया और अपने घर परिवार के लिए सुख समृद्धि की कामना की। जिला प्रशासन और मंदिर न्यास के द्वारा श्रद्धालुओं की सुरक्षा सुविधा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। इसके अलावा मंदिर की सजावट का कार्य अभी इस बार बखूबी किया गया है। करनाल की समाजसेवी संस्था की ओर से मां का मंदिर फूलों से सजाया गया है। शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा है। लगभग 600 के करीब पुलिसकर्मी होमगार्ड जवान और पूर्व सैनिक तैनात किए गए हैं। इसके अलावा सफाई का भी पुख्ता बंदोबस्त किया गया है।

चिंतपूर्णी शक्तिपीठ के कपाट दो बजे कपाट खोले गए और सुबह पांच बजे पहली आरती हुई। मां बज्रेश्वरी कांगड़ा में सुबह पांच बजे माता मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोले और इसके बाद मां की आरती हुई, मां को भोग लगाया। इसके बाद भक्तों ने कतारों में लग कर मां के दर्शन किए। शाम सात बजे फिर माता की आरती होगी। रात नौ बजे तक मंदिर खुला रहेगा। चामुंडा मंदिर में भी मंदिर के कपाट चार बजे खोल दिए गए।मांकी आरती व भोग लगाने के बाद दूर- दूर से आए भक्तों ने मां के दर्शन किए। शाम 7:30 बजे मां आरती के बाद मंदिर के कपाट रात दस बजे तक खुले रखेंगे। ज्वालाजी मंदिर के कपाट सुबह पांच बजे खोले गए। मंदिर के द्वार 10 बजे तक खुले रहेंगे।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है