Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

Una में जारी रहेगी क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डर की हड़ताल- यह है कारण

Una में जारी रहेगी क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डर की हड़ताल- यह है कारण

- Advertisement -

ऊना। जिला ऊना (Una) में क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डर की हड़ताल जारी रहेगी। मुख्यालय पर क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डरों की बैठक हुई। बैठक में क्रशर एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष अजय राणा द्वारा हड़ताल खत्म करने की घोषणा को खारिज कर दिया गया। वहीं, क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डर ने मांगें पूरी ना होने तक हड़ताल जारी रखने का ऐलान किया है। दरअसल सरकार के नए खनन नियमों के खिलाफ ऊना के क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डर 1 मार्च से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए थे। क्रशर एसोसिएशन के वाइस चेयरमैन डिंपल ठाकुर ने कहा कि सरकार द्वारा हाल ही में जारी नए आदेशों में जो बदलाव किए भी हैं, उसका ऊना, नालागढ़, बद्दी, पांवटा साहिब, डमटाल, नूरपुर और कांगड़ा को कोई लाभ नहीं होगा। डिंपल ठाकुर ने सरकार से क्रशर और ओपन सेल लीज होल्डरों से बैठक कर पूरी यथास्थिति जानने की मांग उठाई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 


क्रशर एसोसिएशन के वाइस चेयरमैन डिपंल ठाकुर ने कहा कि एसोसिएशन सीएम जयराम ठाकुर व उद्योगमंत्री बिक्रम ठाकुर के आभारी हैं कि जिन्होंने हमारी मांगों को ध्यान में रखते हुए कोई तो निर्णय लिया, लेकिन प्रदेश सरकार द्वारा लिए गए निर्णय से हमारी समस्या हल नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि पिछले कल सरकार के नए आदेश से ऊपरी राज्य को कोई ज्यादा नुकसान नहीं है, लेकिन ऊना, नालागढ़, बद्दी, पांवटा साहिब, डमटाल, कांगड़ा व नुरपुर को इससे नुकसान है। डिंपल ठाकुर ने कहा कि हिमाचल में करीब 400 लीज है, लेकिन नए आदेश के बाद ऊपर हिमाचल के ही मात्र 50 लीज होल्डरों ने अपनी हड़ताल वापस ली है, लेकिन हमारी मांग 25 फरवरी को निकाले गए आदेशों को वापस लेने की हैं। उन्होंने कहा कि अपनी समस्या को लेकर पुन: सीएम जयराम ठाकुर व बिक्रम ठाकुर से मुलाकात करेंगे।



डिपंल ठाकुर ने कहा कि लेबर से माइनिंग मुमकिन नहीं है। उन्होंने कहा कि हिमाचल की माइनिंग पॉलिसी में 76 हाउस पॉवर की जेसीबी को खनन के लिए मंजूरी दी गई है। वहीं, एमईईएफएफ में साफ लिखा है कि जिस नदी की 100 मीटर से ऊपर चौड़ाई है, उसमें मैकेनिकल माइनिंग की जा सकती है। उन्होंने कहा कि ऊना की स्वां नदी 555 मीटर से 750 मीटर चौड़ी है। ऐसे में सीएम जयराम ठाकुर से आग्रह है कि मांगों को विचार कर राहत दें।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है