Covid-19 Update

3497
मामले (हिमाचल)
2278
मरीज ठीक हुए
16
मौत
2,325,026
मामले (भारत)
20,378,854
मामले (दुनिया)

जानें इस मंदिर में चढ़ते ही कैसे सफेद से नीला हो जाता है दूध

केरल के एक गांव में मौजूद है यह महाभारत कालीन मंदिर

जानें इस मंदिर में चढ़ते ही कैसे सफेद से नीला हो जाता है दूध

- Advertisement -

केरल। सावन के माह में पूरा देश शिवमयी हो जाता है। ऐसे में कोई कांबड़ यात्रा पर निकलता है, तो कोई अमरनाथ या किन्‍नर कैलाश यात्रा पर। देश के लगभग हर राज्‍य में भगवान शिव (Lord Shiva) की पूजा अपनी-अपनी आस्‍था और विधि-विधान के साथ की जाती है। इस बीच हम आपको केरल (Kerala) राज्‍य के कीजापेरुमपल्‍लम गांव में ले चलते हैं, जहां महाभारत कालीन दुखहरण नाथ मंदिर (Temple) विद्यमान है। बताया जाता है कि यह मंदिर केतु को समर्पित है, मगर यहां के प्रमुख अधिष्‍ठाता भगवान शिवजी हैं और इसके चलते इसे नागनाथ नाम से भी प्रसिद्धी प्राप्‍त है। इस मंदिर में राहु पर दूध चढ़ाया जाता है और इसके लिए दूर-दूर से श्रद्धालु यहां आते हैं।


यह भी पढ़ें :-  श्रावण माह में इस तरह करें भगवान शिव को प्रसन्न

मंदिर की खास बात यह है कि मंदिर में कुछ लोगों द्वारा चढ़ाया गया दूध (MilK) रंग बदल (Change color) लेता है और साफेद से नीला हो जाता है। इसके चलते माना जाता है कि जिस व्‍यक्ति पर केतु ग्रह दोष है उसके द्वारा चढ़ाया जाने वाला दूध रंग बदल कर नीला हो जाता है। किंवदंति के अनुसार एक बार एक ऋषि के श्राप से आजाद होने के लिए केतु ने शिव की आराधना शुरू की और भगवान शिवजी उसकी तपस्या से प्रसन्न हो गए और किसी एक शिवरात्रि के दिन उन्होंने केतु को ऋषि के श्राप से आजादी दिलाई थी।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

















सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है