तो इसलिए दाहिने हाथ में बांधी जाती है राखी, आप भी जानें

इस बार का रक्षा बंधन है ख़ास

तो इसलिए दाहिने हाथ में बांधी जाती है राखी, आप भी जानें

- Advertisement -

नई दिल्ली। अक्सर रक्षा बंधन (Raksha Bandhan) के दिन आप घर में बड़े-बुजुर्गों को कहते हुए सुनते होंगे कि राखी को दाहिने हाथ में बांधना। बड़े जो भी कहते हैं उसका कुछ अर्थ होता है। हम आपको बता दें कि इसके पीछे भी एक कारण है। हिंदू मान्यताओं में दाएं हाथ को हमेशा शुभ माना गया है। इसलिए पूजा-पाठ या शुभ काम हमेशा दाएं हाथ से किए जाने चाहिए। ऐसा कहते हैं रक्षा सूत्र बांधने से ब्रह्मा विष्णु, महेश, लक्ष्मी, सरस्वती और दुर्गा सभी का आर्शीवाद
(Goodwill) प्राप्त होता है। यही वजह है कि राखी हमेशा दाएं हाथ में बांधा जाना जाना चाहिए। इसके अलावा हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस साल का रक्षा बंधन का तयोहार क्यो ख़ास है।


यह भी पढ़ें- रक्षाबंधन में इस जगह होता है खूनी खेल, जानिए क्या है इसके पीछे की कहानी

बता दें इस बार रक्षा बंधन 15 अगस्त को आ रहा है। इस बार रक्षा बंधन के मौके पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त (Auspicious beginning) काफी लंबा है। इस बहनें दिन भर में किसी भी समय अपने भाई को राखी बांध सकती हैं। आप अपने भाई को राखी बांधते वक्त एक मंत्र का उच्चारण भी कर सकती है। ये मंत्र है- येन बद्धो बलिराजा, दानवेन्द्रो महाबलः तेनत्वाम प्रति बद्धनामि रक्षे, माचल-माचलः’ जिसका अर्थ है- ‘जिस रक्षासूत्र से शक्तिशाली दानवेन्द्र राजा बलि को बांधा गया था, उसी रक्षा बंधन से मैं तुम्हें बांधता हूं, ये तुम्हारी रक्षा करेगा।’ राखी बांधने का शुभ मुहूर्त इस बार 15 अगस्त को सुबह 5 बजकर 49 मिनट से शुरू होकर शाम 6.01 बजे तक रहेगा।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

ऊनाः ट्रेन से कटकर दो की मौत, एक की हुई पहचान-दूसरे की नहीं

मुकेश बोलेः गैर हिमाचली चौकड़ी तैयार कर रही मास्टर प्लान, कांग्रेस करेगी जन आंदोलन

ट्रक और बाइक की टक्कर, मणिमहेश से लौट रहे एक युवक की मौत

हिमाचल में कांस्टेबल के 92 पद भरने के लिए आज से आवेदन शुरू, यहां देखें

वीरभद्र बोलेः छोड़ दें एक-दूसरे की टांग खींचना, एक सोच-एक संघर्ष से करें काम

नूरपुरः गहरी खाई में गिरा ट्रक, चालक की मौत-परिचालक टांडा रेफर

जानिए-जम्मू और वापस भरमाड़ कैसे पहुंचे फतेहपुर से लापता लड़के

बिलासपुर के जवान को सैनिक सम्मान के साथ दी अंतिम विदाई

अरुण जेटली के निधन पर हिमाचल में दो दिन का राजकीय शोक

कुफरी में कैंटर से जा भिड़ी बाइक, एक की मौत

लो सुनो , मंडी के इंस्पेक्टर साहब का कारनामा, कमीशन होल्डरों से मंगवा डाले कुर्सी- टेबल

मन की बात : गांधी जयंती पर खुले में शौच मुक्त होगा भारत, प्लास्टिक के खिलाफ चलाएंगे आंदोलन

अरुण जेटली का अंतिम संस्कार आज, बीजेपी मुख्यालय पहुंचा पार्थिव शरीर

पांवटा साहिब : पारिवारिक मनमुटाव के चलते नहर में कूदा युवक, सर्च ऑपरेशन जारी

फतेहपुर से लापता लड़के भरमाड़ में मिले, पूछताछ में बोले - पता नहीं चला कब पहुंचे पठानकोट

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है