शनि जयंती पर आजमाएं ये 15 सरल टोटके, हर संकट को रोके

शनि जयंती पर आजमाएं ये 15 सरल टोटके, हर संकट को रोके

- Advertisement -

शनि को एक क्रूर ग्रह माना जाता है और कहा जता है कि वो अशुभ फल भी देते हैं, लेकिन ये भी माना जाता है कि असल जिंदगी में ऐसा नहीं है क्योंकि शनि न्याय करने वाले देवता हैं और वो कर्म के हिसाब से कर्मफल देने वाले दाता हैं। वे बुरे कर्म करने वाले लोगों को बुरी सजा और अच्छे कर्म करने वाले को अच्छा परिणाम देते हैं। शनि जयंती (Shani jayanti) के दिन भक्त शनि देव की पूजा करते हैं तथा उन्हें शनि पीड़ा से मुक्ति की प्रार्थना (Prayer) करते हैं। शनि जयंती सबसे सुनहरा अवसर है शनि संबंधी सरल और पवित्र टोटके (Tricks) आजमाने के लिए। यह 15 सरलतम टोटके शुभ और हानिरहित हैं …


यह भी पढ़ें :-  शनि जयंती विशेष : कुंडली में बैठे हैं शनि तो जरूर करें इस विधि से पूजा

पुराना जूता शनि जयंती के दिन चौराहे पर रखें।

शमशान घाट में लकड़ी का दान करें।

बहते पानी में नारियल विसर्जित करें।

शनि जयंती को सरसों का तेल हाथ और पैरों के नाखूनों पर लगाएं।

शनि जयंती के दिन बंदरों को काले चने, गुड़, केला खिलाएं।

शनि जयंती पर सरसों के तेल का छाया पात्र दान करें।

शनि जयंती से आरंभ कर चीटिंयों को 7 शनिवार काले तिल, आटा, शक्कर मिलाकर खिलाएं।

शनि जयंती की शाम पीपल के पेड़ के नीचे तिल या सरसों के तेल का दीपक जलाएं।

शनि की ढैया से ग्रस्ति व्यक्ति को हनुमान चालीसा का सुबह-शाम जप करना चाहिए।

आर्थिक वृद्धि के लिए आप सदैव शनिवार के दिन गेंहू पिसवाएं और गेहूं में कुछ काले चने भी मिला दें।

 

यह भी पढ़ें :- सूर्य उदय से पहले छत पर डाल दें ये, घर का हर दुख होगा दूर

शनि जयंती को काले रंग की चिड़िया खरीदकर उसे दोनों हाथों से आसमान में उड़ा दें। आपकी दुख-तकलीफें दूर हो जाएंगी।

शनि जयंती को 10 बादाम लेकर हनुमान मंदिर में जाएं। बादाम वहां रख दें और 5 बादाम घर लाकर किसी लाल वस्त्र में बांधकर धन स्थान पर रख दें।

शनि जयंती को काले उड़द पीसकर उसके आटे की गोलियां बनाकर मछलियों को खिलाएं।

शनि जयंती को आक के पौधे पर 7 लोहे की कीलें चढ़ाएं। काले घोड़े की नाल या नाव की कील से बनी लोहे की अंगूठी मध्यमा उंगली में शनि जयंती को सूर्यस्त के समय पहनें।

शनि जयंती के दिन लोहे का त्रिशूल महाकाल शिव, महाकाल भैरव या महाकाली मंदिर में अर्पित करें। शनि दोष के कारण विवाह में विलंब हो रहा हो, तो 250 ग्राम काली राई, नए काले कपड़े में बांधकर पीपल के पेड़ की जड़ में रख आएं और शीघ्र विवाह की प्रार्थना करें।

पंडित दयानंद शास्त्री, उज्जैन (म.प्र.) (ज्योतिष-वास्तु सलाहकार)
09669290067, 09039390067

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

एसडीएम ने दी दबिश तो जंगल की तरफ भागे खनन में जुटे लोग

कार-स्कूटी की टक्कर में एक की मौत,कार चालक के खिलाफ कार्रवाई शुरू

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने किया सोलन में राधा कृष्ण मंदिर का लोकार्पण

आसमानी बिजली गिरने से 17 लोगों की मौत, कई गंभीर जख्मी

सोलन में पठानकोट निवासी से बरामद हुआ चिट्टा

भारत को जीएसपी दर्जा वापस दिलवाने के लिए 44 अमेरिकी सांसदों ने ट्रंप को लिखा खत

पठानकोटः छात्राओं के अपहरण की कोशिश, जसूर के दो युवकों सहित 4 धरे

महिला की आपत्तिजनक तस्वीरें खींच किया दुष्कर्म, फिर इंटरनेट पर कर दीं अपलोड

23 तक खराब रहेगा मौसम, इन दिनों में होगी भारी बारिश

इन कर्मचारियों का भी 4 फीसदी बढ़ा महंगाई भत्ता, लगी मुहर

पुलिस विभाग के 88 एएसआई बने सब इंस्पेक्टर, आदेश जारी

ब्रेकिंगः जूनियर ऑफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 का संशोधित रिजल्ट आउट

हाईकोर्ट का इंडियन टेक्नोमैक कंपनी की संपत्ति नीलामी पर रोक से इंकार

ब्रेकिंगः 23 पुलिस कर्मचारियों के तबादले, कौन कहां भेजा-जानिए

वन विभाग के अतिरिक्त सचिव व मुख्य अरण्यपाल हाईकोर्ट में तलब

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है