सूर्यदेव की पूजा करने से दूर होते हैं सारे कष्ट, जानिए क्या है विधि

रविवार को सूर्य पूजा करने का विशेष दिन

सूर्यदेव की पूजा करने से दूर होते हैं सारे कष्ट, जानिए क्या है विधि

- Advertisement -

हिंदू धर्म में सूर्य देव का विशेष महत्व है। सूर्यदेव को संसार में ऊर्जा का स्रोत माना गया है। सूर्य पूजन के ढेरों लाभ बताए गए हैं। इसके लिए जरूरी है कि हम सही पूजा विधि का पालन करें। सूर्य पूजन से व्यक्ति के जीवन में सकारात्मकता का संचार होता है। जीवन में व्याप्त निराशा दूर होती है और वह अपनी जिंदगी में नई सफलताएं हासिल करता है।
यदि आप चाहते हैं आपके जीवन में सफलता आपके कदम चूमें, भाग्य सूर्य की तरह चमके तो सूर्यदेव की पूजा शुरू कर दें।


यह भी पढ़ें : पोंगल : सूर्यदेव को समर्पित ये त्योहार, ऐसे होती है पूजा

ज्योतिषाचार्य प. दयानन्द शास्त्री ने बताया कि प्रतिदिन सूर्य मंत्रों का जप करने और सूर्य को जल अर्पित करने और सूर्य नमस्कार करने से बल, बुद्धि, विद्या, वैभव, तेज, ओज, पराक्रम व दिव्यता आती है।

  • सूर्य देवता की पूजा करने से आपके सारे रोग दूर होंगे साथ ही सफलता आपके साथ होगी। लेकिन सूर्य की पूजन विधि भी जान लें।
  • सूर्यदेवता को तांबे के लौटे से जल चढ़ाना चाहिए। इससे सूर्य देवता प्रसन्न हो जाते है। इसलिए सूर्यदेव की पूजा कर सारी कामनाएं पूरी की जा सकती हैं। जिससे सूर्य की कृपा व्यक्ति को समाज में मान-सम्मान प्राप्त होता है। नौकरी और भाग्य संबंधी परेशानियां भी सूर्य पूजा से दूर हो सकती हैं।
  • हर रोज सूर्य मंत्रों का जप करें और सूर्य को जल अर्पित करें। सूर्य नमस्कार करने से बल, बुद्धि, विद्या, वैभव, तेज, ओज, पराक्रम व दिव्यता आती है।

जानिए रविवार के दिन किस तरह सूर्यदेव की पूजा करनी चाहिए ताकि सूर्य भगवान जल्द ही आप पर प्रसन्न हो जाए।

  • रविवार का दिन भगवान सूर्य को प्रसन्न करने के लिए बेहद खास दिन होता है। सूर्यदेव को लाल पुष्प, लाल चंदन, गुड़हल का फूल, चावल अर्पित करें। गुड़ या गुड़ से बनी मिठाई का भोग लगाएं और पवित्र मन से सूर्य मंत्र का जाप कर सकते हैं।
    अपने माथे पर लाल चंदन से तिलक लगाए।
  • जो लोग इस दिन सूर्य की विशेष पूजा करते हैं, उन्हें घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान मिलता है और दरिद्रता से मुक्ति भी मिल सकती है। रविवार के दिन सूर्य मंत्र स्तुति का पाठ करें। इस पाठ के साथ शक्ति, बुद्धि, स्वास्थ्य और सम्मान की कामना करें।

“नमामि देवदेवशं भूतभावनमव्ययम्।
दिवाकरं रविं भानुं मार्तण्डं भास्करं भगम्।

इन्दं विष्णुं हरिं हंसमर्कं लोकगुरुं विभुम्।
त्रिनेत्रं त्र्यक्षरं त्र्यङ्गं त्रिमूर्तिं त्रिगतिं शुभम्”।

सूर्यदेव की पूजन विधिः सूर्य देवता की पूजा करने में उनके आह्वान की ज़रूरत नहीं होती है। ना ही आसन की आवश्यकता होती है। भगवान सूर्यदेव ऐसे ही दिख जाते हैं इसलिए उनकी पूजा खड़े होकर ही होती है। हमेशा उगते हुए सूर्य की पूजा करनी चाहिए। सूर्य की पहली किरण के साथ उनकी पूजा अर्चना करें तो उसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

श्री सूर्य देव के पूजन के लिए तांबे की थाली और लोटे की जरूरत होती है। इसके लिए लाल चंदन और लाल फूल रखने चाहिए। इसके अलावा साथ में एक दिया भी रखें। इसके बाद लोटे में जल लेकर उसमें लाल रंग के चंदन का पाउडर मिला लें। इसके साथ ही लोटे में फूल भी डाल दें। अब दीपक और लोटे को थाली में रख लें। इसके बाद ‘ऊँ सूर्याय नमः’ का जाप करें। अब सूर्य देवता को लोटे का चल चढ़ाएं। अंत में भगवान सूर्य को प्रमाण करें।

मन्त्र–

“ॐ सूर्याय नमः” मन्त्र का जाप करते हुए सूर्य देवता को जल अर्पित करें और प्रणाम करें। इसके बाद “सूर्याय नमः अर्घ समर्पयामि” कहते हुए पूरा जल समर्पित कर दें।

अर्द्धसमर्पित करते समय नज़रें लोटे के जल दी धारा की तरफ रखें। जल की धारा सूर्य में सूर्य का प्रतिबिम्ब एक बिंदु के रूप में जल की धारा में दिखाई देगा।

इसके बाद सूर्य और सात प्रदक्षिणा करें और हाथ जोड़कर प्रणाम कर लें।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

बीजेपी की जीत पर भी शांता चिंतित, उन्हें कहां लगा लोकतंत्र हार गया-जाने

उम्मीद से ज्यादा लीड मिलने के बाद बोले अनुराग-अन्याय करने वाले कैसे न्याय करेंगे

हरोली में मुकेश नहीं दिखा पाए जलवा, बूथ वाइज देखें रिजल्ट

धर्मशाला-पच्छाद में होंगे विस उप चुनाव, किसे मिल सकती है बीजेपी की टिकट, जानें

अब तक किस विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी को कितनी लीड, जानिए

जयराम मतगणना के रूझानों से गदगद,बोले- इतिहास बनने वाली है ये जीत

कांग्रेस हिमाचल में चारों खाने चित्त, सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में पिटने चली

कांगड़ा में कोई ओबीसी कार्ड नहीं, कपूर प्रदेश भर में सर्वाधिक मतों से आगे

भद्रवानी में सिलेंडर फटने से पिता व दिव्यांग बेटी की मौत

Himachal Result Live : हिमाचल की चारों सीटें बीजेपी को, कांगड़ा से किशन कपूर को 4,66,395 की लीड

न्यायाधीश धर्म चंद चौधरी होंगे हाईकोर्ट के कार्यवाहक चीफ जस्टिस

किसके सिर सजेगा ताज-कल खुलेगा राज, 18 काउंटिंग सेंटर में होगी मतगणना

मनाली से दिल्ली जा रही वोल्वो बस के नीचे आया 12 वर्षीय बच्चा, मौत

एचपीएसएससीः टाइपिंग टेस्ट और मूल्यांकन कार्यक्रम का शेड्यूल जारी

तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक को मारी टक्कर, इंजीनियिरिंग के छात्र की मौत

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है