धर्मगुरु दलाईलामा ने तिब्बतियों को लोसर टाशी देलेक कहकर दिया आशीर्वाद 

बोले,  तिब्बती समस्या सत्य पर आधारित है और सत्य कभी नहीं मरता

धर्मगुरु दलाईलामा ने तिब्बतियों को लोसर टाशी देलेक कहकर दिया आशीर्वाद 

- Advertisement -

धर्मशाला। धर्मगुरु दलाईलामा ने लोसर उत्सव (तिब्बती नव वर्ष) पर तिब्बत में रह रहे तिब्बतियों और निर्वासित तिब्बतियों का अभिवादन स्वीकार कर शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर दलाईलामा ने आशा व्यक्त की कि तिब्बत की समस्या कभी नहीं मरेगी, तिब्बती समस्या सत्य पर आधारित है और सत्य कभी नहीं मरता। यह समय के साथ  मजबूत और स्पष्ट हो जाएगा।
दलाईलामा ने कहा कि तिब्बत की समस्या का समाधान के लिए बौद्धों को हमेशा सचेत रहना चाहिए। बौद्धों के कंधों पर तिब्बत की समस्याओं के समाधान की जिम्मेदारी है। मैक्लोडगंज स्थित अपने अस्थायी निवास में 90 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग तिब्बतियों के एक समूह को तिब्बती नए साल 2146 लोसर का संदेश देते हुए यह विचार व्यक्त किए। 

दलाईलामा ने तिब्बत में रह रहे तिब्बतियों और निर्वासित तिब्बतियों को लोसर टाशी देलेक (नए साल पर तिब्बती अभिवादन) कहकर आशीर्वाद दिया। दलाईलामा ने कहा कि तिब्बती चेनरेसिग, अवलोकितेश्वर के अनुयायी माने जाते हैं और सही मायने में, हमारे लोगों ने तिब्बत की परंपरा और वंश को संजो कर रखा है। एक चुनौतीपूर्ण समय का सामना करने के बावजूद, हमने तिब्बत की अनूठी संस्कृति और धर्म के लिए प्रशंसा और मान्यता को सफलतापूर्वक आकर्षित किया है।
मंगलवार को निर्वासित तिब्बतियों ने केंद्रीय तिब्बती प्रशासन द्वारा मैक्लोडगंज स्थित चुगलाखंग बौद्ध मठ में आयोजित लोसर समारोह में भाग लिया। युवा तिब्बतियों ने उत्साह और आनंद से गीतों और नृत्य का प्रदर्शन किया, जोकि तिब्बत के तीन प्रांतों का प्रतिनिधित्व कर रहे थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें हिमाचल अभी अभी न्यूज अलर्ट

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है