Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

पंडोह बाजार घरों- दुकानों में घुसा डैम का पानीः लोग बोले,  बीबीएमबी की लापरवाही 

पंडोह बाजार घरों- दुकानों में घुसा डैम का पानीः लोग बोले,  बीबीएमबी की लापरवाही 

- Advertisement -

मंडी। पंडोह डैम से छोड़ा गया पानी अचानक पंडोह बाजार में पहुंच गया और लोगों के घरों और दुकानों में घुस गया। जिससे वहां अफरा तफरी मच गई। अचानक आए इस पानी से लोगों को इतना भी समय नहीं मिला कि वह अपनी गाड़ियों को बचा पाते या अपना सामान समेटते। इस बाढ़ ने लोगों को 1995 का वो मंजर याद दिला दिया जब मनाली में बादल फटने के कारण पंडोह बाजार में पानी घुस आया था। वहीं इस सब के लिए लोगों ने बीबीएमबी प्रबंधन को जिम्मेवार ठहराया है। पंडोह के लोगों का आरोप है कि बीबीएमबी प्रबंधन ने भारी बारिश के बीच पंडोह डैम की फ्लशिंग का कार्य कियाए जिस कारण नदी का जलस्तर बढ़ा और पंडोह बाजार की अधिकतर दुकानों और घरों में पानी घुसा।


यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः प्रदेश के इन जिलों में सोमवार को बंद रहेंगे शिक्षण संस्थान

बता दें कि भारी बारिश के बीच पंडोह डैम के सभी पांचो गेट खोल दिए गए थे। पंडोह डैम से छोड़े गए पानी के कारण पंडोह बाजार में पानी घुस गया और इससे लोगों को भारी नुकसान हुआ है। लोगों का कहना है कि यदि डैम प्रबंधन भारी बरसात में डैम की फ्लशिंग नहीं करता तो इतना नुकसान नहीं होता। वहीं बीबीएमबी प्रबंधन ने स्थानीय लोगों द्वारा लगाए जा रहे आरोपों को सिरे से खारिज किया है और इस बात को भी स्वीकार किया है कि डैम की फ्लशिंग की गई है।
बीबीएमबी के चीफ इंजीनियर नितिश जैन ने बताया कि पंडोह डैम की फ्लशिंग का कार्यक्रम पहले से ही तय था और इस बारे में जिला प्रशासन को भी सूचित किया गया था। उन्होंने बताया कि डैम के पास इतनी बड़ी रेजर वॉयर नहीं कि यहां पानी स्टोर किया जा सके। यहां से पानी को सिर्फ डायवर्ट किया गया है और जो पानी पीछे से आया उसे ही आगे छोड़ा गया है। बता दें कि बीबीएमबी प्रबंधन सिल्ट निकासी के लिए समय.समय पर पंडोह डैम की फ्लशिंग करता रहता है लेकिन भारी बारिश के बीच की गई फ्लशिंग से कई सवाल पैदा हो रहे हैं और इसी के आधार पर स्थानीय लोग डैम प्रबंधन को इसके लिए दोषी मान रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है