Expand

CP वर्मा ने संभाला कांगड़ा के डीसी का कार्यभार

CP वर्मा ने संभाला कांगड़ा के डीसी का कार्यभार

- Advertisement -

धर्मशाला। भारतीय प्रशासनिक सेवा के वर्ष 2010 के बैच के अधिकारी चन्द्र प्रकाश वर्मा ने वीरवार अपराह्न कांगड़ा जिला के नए डीसी के रूप में कार्यभार संभाल लिया। उन्होंने रितेश चौहान का स्थान लिया है, जिनकी तैनाती केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा के निजी सचिव के पद पर हुई है। चंद्र प्रकाश वर्मा ने वर्ष 1997 में हिमाचल प्रशासनिक सेवा में पदार्पण किया था और 1999 में मंडी के गोहर में खंड विकास अधिकारी के पद पर उनकी पहली तैनाती हुई। वे निचार, पालमपुर, पावंटा व हमीरपुर में उपमंडलाधिकारी, बिलासपुर, हमीरपुर, सोलन व मंडी में जिला दंडाधिकारी, सोलन में अतिरिक्त उपायुक्त, प्रदेश विश्वविद्यालय तथा ट्रिब्यूनल में रजिस्ट्रार तथा नियंत्रक, प्रिटिंग व स्टेशनरी जैसे महत्वपूर्ण पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। कांगड़ा में डीसी का कार्यभार संभालने से पहले वह निदेशक, सतर्कता तथा विशेष सचिव (गृह एवं सतर्कता) का कार्यभार संभाले हुए थे। कांगड़ा जिला के डीसी के रूप में कार्यभार संभालने के बाद चन्द्र प्रकाश वर्मा ने कहा कि जनता एवं विकास उनकी पहली प्राथमिकता है और जनता की शिकायतों के समयबद्ध निपटारे के साथ-साथ वह विकास कार्यों को प्राथमिकता देंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी व विकासात्मक योजनाओं को जिला में पूरी गति व पारदर्शिता से अमलीजामा पहनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान के साथ बेटी है अनमोल को नई दिशा देने के प्रयास किए जाएंगे।

yunusयुनूस कुल्लू तथा CP वर्मा होंगे डीसी कांगड़ा

शिमला। रघुनाथ मंदिर मामले में ढील बरतने पर डीसी कुल्लू हंस राज की छुट्टी हो गई है। उन्होंने उपायुक्त के पद से हटाकर अब विशेष सचिव पीडब्ल्यूडी तैनात किया गया है। अब कुल्लू के डीसी का जिम्मा युनूस को सौंपा गया है। इसके अलावा सरकार ने निदेशक विजिलेंस चंद्र प्रकाश वर्मा को डीसी कांगड़ा के पद पर तैनात किया है। उपायुक्त कांगड़ा रितेश चौहान केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जा रहे है। सरकार के आदेश आज सुबह ही जारी हुए है। बीते दिनों बंजार में भी एक जनसभा के दौरान मुख्यमंत्री ने इस सारे मामले को लेकर साफ-साफ संकेत दे दिए थे।

virbhadra-singhगौरतलब है कि 13 सितंबर को बंजार दौरे के दौरान मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह  भगवान रघुनाथ मंदिर ट्रस्ट मामले को लेकर डीसी कुल्लू हंसराज चौहान की क्लास ली थी। जिसके चलते डीसी का तबादला किया गया है। रघुनाथ ट्रस्ट बनाने को लेकर सरकार के आदेशों को सख्ती से लागू नहीं करने पर मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने मंच से ही कहा था कि उक्त व्यक्ति डीसी बनने के लायक नहीं है और सरकार ऐसे लापरवाह अधिकारियों को किसी भी सूरत में नहीं बख्शेगी। उन्होंने इस दौरान मंच से ही डीसी कुल्लू हंसराज चौहान के तुरंत स्थानांतरण करने के फरमान भी जारी कर दिए थे। सीएम का कहना था कि सरकार के आदेशों का पालन करना अधिकारियों की जिम्मेदारी होती है लेकिन कुल्लू के डीसी ने सरकार के आदेशों की अनुपालना नहीं की है। अतः ऐसे अधिकारी को पद पर रहने का भी कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने इस मौके पर दूसरे अधिकारियों को भी अपना कार्य गंभीरता से करने के कड़े निर्देश दिए थे।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है