Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,111,851
मामले (भारत)
114,541,104
मामले (दुनिया)

चिंतपूर्णीः श्रावण अष्टमी मेले एक अगस्त से, सर्वश्रेष्ठ पंचायत को मिलेंगे एक लाख

चिंतपूर्णीः श्रावण अष्टमी मेले एक अगस्त से, सर्वश्रेष्ठ पंचायत को मिलेंगे एक लाख

- Advertisement -

ऊना। माता चिंतपूर्णी मंदिर में इस वर्ष श्रावण अष्टमी मेले का आयोजन 1 से 9 अगस्त तक किया जा रहा है। मेले के दौरान कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरे मेला क्षेत्र को दस सेक्टरों में बांटा जाएगा तथा सुरक्षा की दृष्टि से एक हजार से अधिक पुलिस व होमगार्ड के जवान तैनात रहेंगे, जिनमें पुलिस (Police) के 350 जवान और होमगार्ड के 700 जवान शामिल होंगे। मेले के सफल आयोजन को लेकर आज डीसी ऊना (DC UNA) संदीप कुमार की अध्यक्षता में यात्री सदन भरवाईं में एक बैठक का आयोजन किया गया। उन्होंने मंदिर क्षेत्र की पंचायतों के पंचायत प्रतिनिधियों को आह्वान किया कि वे मेले के सफल एवं सुचारू आयोजन में अपनी पूर्ण सहभागिता सुनिश्चित करें। उन्होंने मेले के दौरान प्रबंधन में सर्वश्रेष्ठ रहने वाली पंचायत को एक लाख रुपए देने की घोषणा की।

यह भी पढ़ें: बंजार बस हादसाः ब्लैक लिस्ट होगा ऑपरेटर, आरटीओ-एमवीआई से भी जवाब तलबी

ढोल-नगाड़े, लाउडस्पीकर व चिमटा बजाने पर रहेगा बैन

डीसी ने बताया कि मेला के दौरान श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाए जाने वाले नारियल के अतरिक्त ढोल-नगाड़े, लाउडस्पीकर व चिमटा इत्यादि बजाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान किसी को भी डीजे चलाने की अनुमति नहीं दी जाएगी तथा जो लोग इसकी उल्लंघना करेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

जाम से निपटने के लिए रिकवरी वैन भी होगी तैनात डीसी ने बताया कि मेले के दौरान एएसपी ऊना (ASP UNA) विनोद धीमान बतौर पुलिस मेला अधिकारी, डीएसपी अंब मनोज जम्बाल उप पुलिस मेला अधिकारी और बीएमओ अंब बतौर मेला चिकित्सा अधिकारी तैनात रहेंगे। इसके अतिरिक्त चार क्यूआरटी दस्तों की भी तैनाती की जाएगी। डीसी ने बताया कि माता चिंतपूर्णी के दर्शनों के लिए दर्शन पर्ची एडीबी पार्किंग में मिलेगी।

यह भी पढ़ें:हमीरपुर : नर्सिंग कॉलेज की छात्रा से मैस में छेड़छाड़, जबरदस्ती का प्रयास

ये भी पढ़ें : बड़े सेक्स रैकेट का भंडाफोड़: देश-विदेश की 25 युवतियां व 10 युवक गिरफ्तार

डीसी ने बताया कि मेले के दौरान सफाई व्यवस्था बनाए रखने के लिए मेला क्षेत्र में लगभग 130 अस्थाई शौचालय निर्मित किए जाएंगे, जबकि इस दौरान जाम इत्यादि से निपटने के लिए रिकवरी वैन भी तैनात की जाएगी। इस दौरान साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था लंगर आयोजकों को बनाए रखनी होगी तथा प्लास्टिक व थर्मोकोल का इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः मैट्रिक अनुपूरक परीक्षा का परिणाम घोषित, 55.04 फीसदी रहा

डीसी ने बताया कि मेले के दौरान श्रद्धालुओं को चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाने के लिए विभिन्न स्थानों पर एलोपैथिक की 8 तथा आयुर्वेदिक की 4 पोस्टें भी स्थापित की जाएंगी। इसके अलावा गगरेट, अंब तथा मेडिकल पोस्ट भरवाईं व चिंतपूर्णी में 108 राष्ट्रीय एंबुलेंस सेवा उपलब्ध रहेगी। मेले के दौरान आग इत्यादि की घटना से निपटने के लिए अग्रिशमन वाहन भी तैनात रहेंगे। उन्होंने बताया कि मेला अवधि के दौरान लाइन में लगे श्रद्धालुओं को समुचित पेयजल की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए भी सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है