×

दिल्ली यूनिवर्सिटी लेक्चरर का सिर कटा शव पटरियों पर मिला, घर पर मिली मां की लाश

दिल्ली यूनिवर्सिटी लेक्चरर का सिर कटा शव पटरियों पर मिला, घर पर मिली मां की लाश

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में आए दिन हिंसा की घटनाओं में इजाफा होता जा रहा है। ताजा मामले में यहां के सेंट स्टीफंस कॉलेज (St. Stephen’s College) में गेस्ट लेक्चरर के तौर पर पढ़ाने वाले एलन स्टेनली (27) का सिर कटा शव (Dead body) शनिवार को सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन की पटरियों पर मिला। वहीं, उनके पीतमपुरा स्थित घर में उनकी मां का शव पंखे से लटका मिला। पुलिस द्वारा इस बात की आशंका जताई जा रही है कि स्टेनली ने अपनी मां की हत्या (murder) कर आत्महत्या (Suicide) की है।


पुलिस द्वारा बताया गया कि केरल के कोट्टायम के रहने वाले एलेन स्टेनली (27) का शव शनिवार को सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन की पटरियों पर मिला। इससे पहले उसी दिन उनकी मां लिसी (55) का शव आशियाना अपार्टमेंट में पंखे से लटका मिला था। पुलिस को स्टेनली के शव के साथ कोई सुसाइड नोट नहीं मिला, लेकिन उनके फ्लैट से मलयालम में लिखा एक नोट मिला है। पुलिस ने कहा कि सभी पहलुओं से मामले की जांच की जा रही है। पुलिस ने फ्लैट में उनकी मां का शव मिलने के बाद रानी बाग थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। मां-बेटे दोनों केरल में अपने खिलाफ लंबित आत्महत्या के लिये उकसाने के मामले को लेकर अवसादग्रस्त थे और अंतरिम जमानत पर थे। कुछ दिन पहले स्टेनली ने अपने दोस्तों को यह बात बताई थी, जिन्होंने उन्हें कोई भी घातक कदम नहीं उठाने के लिये कहा था।

स्टेनली पांच साल से दिल्ली में रह रहे थे और उनकी मां सात महीने पहले उनके पास रहने आई थीं। पुलिस के अनुसार उनके कुछ दोस्तों ने कहा कि स्टेनली के भीतर आत्मघाती प्रवृत्ति थी और पांच दिन पहले उन्हें बताया कि उन्होंने अपनी मां को आत्महत्या के लिए मजबूर करने की कोशिश की थी लेकिन उन्होंने मना कर दिया था। दिल्ली विश्वविद्यालय के एक प्राध्यापक ने नाम सार्वजनिक नहीं करने की शर्त पर कहा, ‘केरल की स्थानीय मीडिया में स्टेनली के मामले की केरल के सिलसिलेवार हत्याकांडों से तुलना करते हुए आलेख प्रकाशित किये गए थे। कुछ लोग उन्हें ट्रोल कर रहे थे और उनकी मां के खिलाफ महिला विरोधी टिप्पणियां की गई थीं।’ उन्होंने कहा कि हम अब भी नहीं जानते कि उनके साथ क्या हुआ। लेकिन इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना के लिए मीडिया ट्रायल जिम्मेदार है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group … … 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है