×

अंतिम संस्कार से पहले जिंदा हुआ मुर्दा, अर्थी से उठकर पानी मांगा फिर ….

अंतिम संस्कार से पहले जिंदा हुआ मुर्दा, अर्थी से उठकर पानी मांगा फिर ….

- Advertisement -

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। दरअसल यहां के एक निजी अस्पताल में डॉक्टर्स (Doctor) ने एक 28 वर्षीय युवक को मृत (Died) घोषित कर दिया। जिसके बाद उसके परिजन उसके शव (Dead Body) को घर ले आए और अंतिम संस्कार की तैयारी करने लगे। इसी बीच कुछ ऐसा हुआ कि मौके पर मौजूद सभी लोगों के हाथ-पांव सूज गए। बताया गया कि मृत युवक ने करीब चार घंटे बाद अचानक से आंख खोली और इशारे में पानी (Water) मांगा। इसके बाद उसने कप भर पानी पिया और दोबारा से उसी अवस्था में लेट गया। यह सब देखने के बाद वहां पर हड़कंप जैसा माहौल बन गया, जिसके बाद उसके परिजन आनन-फानन में उसे बलरामपुर अस्पताल गए, जहां डॉक्टर्स ने उसे फिर से मृत घोषित किया गया।


यह भी पढ़ें :-लोकसभा से एनआईए (संशोधन) विधेयक पारित, विरोध में पड़े सिर्फ 6 वोट

यहां पढ़ें पूरा मामला

मिली जानकारी के मुताबिक अमीनाबाद के कल्लन की लाट निवासी संजय (28) पुत्र गुरुप्रसाद की तबीयत खराब थी। उसे क्लीनिक पर दिखाया। जहां डॉक्टरों ने पीलिया बताया। चार-पांच दिन इलाज किया। मगर फायदा नहीं हुआ। ऐसे में उसे शनिवार को नक्खास के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। मौसेरी बहन रजनी के मुताबिक, शनिवार सुबह 10 बजे भर्ती संजय को रविवार सुबह छह बजे मृत घोषित कर दिया गया। परिजन शव लेकर घर आ गए। यहां रिश्तेदारों का इंतजार किया जा रहा था। मोहल्लेवालों की भीड़ लग जुटी थी। साथ ही, दाह संस्कार की तैयारी हो गई थीं। अर्थी तैयार हो गई थी। सुबह 10 बजे के करीब अचानक उसके शरीर में हरकत हुई। थोड़ी देर में आंख खोली। यह देखकर मौजूद भीड़ घबरा गई। संजय ने थोड़ी ही देर में पानी के लिए इशारा किया। घर से एक कप पानी लाकर पिलाया गया। संजय के जीवित होने पर घर के लोग लेकर उसे बलरामपुर अस्पताल भागे। यहां इमरजेंसी में 11:10 पर लोग पहुंचे। डॉक्टरों ने यहां संजय को मृत घोषित कर दिया।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है