सुंदरनगरः हंगामेदार रही नगर परिषद की बैठक, तू-तू, मैं-मैं तक पहुंची बात

शहर से एलईडी लाइट्स के गायब हो जाने को लेकर सदन में  खूब हुआ हल्ला

सुंदरनगरः हंगामेदार रही नगर परिषद की बैठक, तू-तू, मैं-मैं तक पहुंची बात

- Advertisement -

सुंदरनगर। नगर परिषद सुंदरनगर की बैठक में एलईडी लाइट्स के सुंदरनगर शहर के विभिन्न वार्डों से एकाएक गायब हो जाने को लेकर सदन में खूब हो हल्ला हुआ। पार्षदों में खूब तू-तू मैं-मैं भी हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए नगर परिषद की अध्यक्ष पूनम शर्मा ने बताया कि शहर के बीचोंबीच से एलईडी की लाइट का एकाएक गायब हो जाना चिंता का विषय है और इस संदर्भ में पुलिस में प्राथमिकता दर्ज करवा कर उचित कार्रवाई की मांग उठाई है।
वहीं बैठक में निर्णय लिया गया कि जल्द ही नई एलईडी लाइट लगवाई जाएंगी और सुंदरनगर के विभिन्न वार्डो में प्राथमिकता के आधार पर एलइडी लाईट स्थापित की जाएंगी। दूसरी ओर सुंदरनगर शहर के विभिन्न वार्डों में करीब 5 साल से बिजली के खाली खड़े किए गए खंभों को लेकर भी पार्षदों ने कड़ी आपत्ति जताई। पार्षदों ने मामले की उच्च स्तरीय जांच करवाने की भी मांग की।

नगर परिषद के अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

पार्षदों ने नगर परिषद के अधिकारियों की कार्यप्रणाली को लेकर भी सवालिया निशान खड़े किए और उस समय के नगर परिषद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष समेत संबंधित वार्डों के पार्षदों की कारगुजारी पर भी खूब हो हल्ला बोला। बताया कि सुंदरनगर शहर में नियमों के विपरीत 5 से लेकर 7 मंजिला भवन तैयार कर दिए गए हैं और वहां पर बिजली-पानी समेत अन्य तमाम पर्याप्त सुविधाएं हैं। यह सब नगर परिषद की ओर से एनओसी मुहैया होने के बाद ही संभव हो पाया है। इसमें अधिकारियों की संलिप्तता साफ नजर आई है। बैठक में निर्णय लिया गया कि बिना तक्सीम के भी पात्र लोगों को नगर परिषद की ओर से एनओसी की सुविधा मुहैया करवाई जाए, ताकि यह लोग भी आराम से अपने भवनों का निर्माण कर सकें।

नगर परिषद कार्यालय के खस्ताहाल भवन पर चिंता

बेरोजगार युवाओं को भी रोजगार चलाने के लिए दुकानों में बिजली-पानी समेत अन्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए नगर परिषद अपने स्तर पर एनओसी देगी। पार्षदों ने बताया कि सुंदरनगर शहर में सफाई-व्यवस्था लड़खड़ा गई है। नालियां गंदगी से भरी पड़ी हैं। रश्माई और पुराना बाजार के बुरे हाल बने हुए हैं।
नालियों के ऊपर जाली तक नहीं लगी है, जिससे दुर्घटनाएं घटित होने का अंदेशा बना हुआ है। सदन में पार्षदों ने नगर परिषद कार्यालय के खस्ताहाल भवन को लेकर भी गहरी चिंता व्यक्त की। बैठक में ठेकेदारों की लेबर और प्रवासी मजदूरों की दिनों दिन बढ़ रही तादाद को लेकर भी सदन में प्रस्ताव पारित किया गया। इन पर निरंतर चैक रखने की मांग की।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है