Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

रूप कंवर सती कांड में 32 साल बाद होगा फैसला, ये है मामला

रूप कंवर सती कांड में 32 साल बाद होगा फैसला, ये है मामला

- Advertisement -

 

जयपुर । राजस्थान (Rajasthan) के बहुचर्चित रूप कंवर सती कांड (Roop Kanwar Sati Scandal) में आज 32 साल बाद फैसला आएगा। इस मामले की लगातार 32 साल सुनवाई है जिसके बाद मंगलवार को फैसला (Decision) आना है। इस मामले में पुलिस ने 39 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था जिसमें से कुछ की मौत हो गई थी और कुछ बरी कर दिए गए थे। अभी इस मामले में 8 आरोपियों को लेकर फैसला होगा। इन आरोपियों को लेकर राजस्थान सरकार और आरोपियों के वकील के बहस पूरी होने के बाद फैसला होना है। मामले में आरोपी श्रवण सिंह, महेंद्र सिंह, निहाल सिंह, जितेंद्र सिंह, उदय सिंह, नारायण सिंह, भंवर सिंह और दशरथ सिंह के नाम शामिल हैं। जानिए क्या था पूरा मामला,…


 

यह भी पढ़ें- ‘मीडिया मेरा मजाक उड़ा रहा, लेकिन भादों और खरमास में लोग सामान नहीं खरीदते’

 

बता दें, मामला साल 1987 का है जब जयपुर की रहने वाली 18 साल की रूप कंवर की शादी सीकर जिले के दिवराला में माल सिंह शेखावत से हुई थी। शादी के महज सात महीने बाद महीने बाद माल सिंह की बीमारी से मौत (Death) हो गई। तब उसकी पत्नी रूप कंवर ने पति की चिता पर सती होने की इच्छा जताई और 4 सितंबर 1987 को सती हो गई थी। जिसके बाद गांव के लोगों ने उन्हें सती मां कहकर मंदिर बनवा दिया। बाद में इस मामले में जांच कर पाया गया कि वह अपनी मर्जी से सती नहीं हुई थी। आजादी के बाद राजस्थान में सती होने की 29 घटनाएं हुई थीं, जिसमें रूप कंवर आखिरी सती थी। रूप कंवर के बाद से ही सती निवारण कानून बनाया गया था।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है