×

Delhi Budget 2021 : 2047 तक दिल्लीवासियों की आय 47.74 लाख करने का लक्ष्य, पढ़ें क्या रहा खास

दिल्ली के बजट किया गया देश की पहली टीचर्स यूनिवर्सिटी खोलने का ऐलान

Delhi Budget 2021 : 2047 तक दिल्लीवासियों की आय 47.74 लाख करने का लक्ष्य, पढ़ें क्या रहा खास

- Advertisement -

नई दिल्ली। दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने आज वित्त वर्ष 2021-22 (Delhi Budget 2021) का बजट पेश किया। बजट दिल्ली के डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने पेश किया। बजट में दिल्ली सरकार ने साल 2047 तक दिल्लीवासियों की प्रति व्यक्ति आय सिंगापुर (Singapore) की प्रति व्यक्ति आय के बराबर करने का लक्ष्य रखा है। वित्त मंत्री (Finance Minister) मनीष सिसोदिया ने वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए कहा कि 2047 तक दिल्ली की आबादी (Delhi Population) करीब तीन करोड़ हो जाएगी। मनीष सिसोदिया ने करीब 69 हजार करोड़ रुपए का बजट पेश किया। मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि दिल्ली का बकाया ऋण घटकर स्टेट जीडीपी के 3.74 फीसदी रह गया है। दिल्ली सरकार का बजट सरप्लस होता है और इसे सीएजी (CAG) ने भी स्वीकार किया है।


यह भी पढ़ें: पंजाब में छठा वेतन आयोग लागू होने पर बोले सीएम जयराम-हम मूल्यांकन रहे हैं

मनीष ससोदिया ने कहा कि 2047 तक दिल्ली के लोगों की प्रति व्यक्ति आय सिंगापुर की प्रति व्यक्ति आय (Per capita Income) के बराबर पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। सिसोदिया ने कहा कि इस हासिल करने के लिए हमें दिल्ली (Delhi) के लोगों की प्रति व्यक्ति आय 16 गुना तक बढ़ानी होगी। आपको बता दें कि सिंगापुर में प्रति व्यक्ति (Singapore Per capita Income) आय करीब 66 हजार अमेरिकी डॉलर है। इस रकम को रुपए में बदला जाए तो यह रकम करीब 47.74 लाख रुपए के बराबर है।

यह भी पढ़ें: मोटेरा टेस्ट : इंग्लैंड के खिलाड़ियों घट गया था वजन, मैदान से बार-बार टॉयलेट जा रहे थे खिलाड़ी

शिक्षा पर खर्च होंगे 16 हजार 377 करोड़

करीब 69 हजार करोड़ रुपए के बजट में से दिल्ली सरकार शिक्षा (Education Budget) पर 16 हजार 377 करोड़ रुपए, हेल्थकेयर पर 9 हजार 934 करोड़ रुपए, इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 9 हजार 394 करोड़ रुपए, झुग्गीवासियों के आवास पर 5 हजार 328 करोड़ रुपए, अनाध‍िकृत कॉलोनियों के लिए 1 हजार 550 करोड़ रुपए खर्च करेगी। साल 2047 में देश की आजादी को 100 साल हो जाएंगे। इसे देखते हुए ही दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने कई बड़े ऐलान किए हैं। इस बार बजट की थीम देशभक्ति रखी गई है। मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि 2047 में हम दिल्ली को कहां देखना चाहते हैं इसकी आधारशिला रखना चाहता हूं। हम केजरीवाल मॉडल की गवर्नेंस पेश कर रहे हैं।

दिल्ली में देश की पहली टीचर्स यूनविर्सिटी

दिल्ली के वित्त मंत्री (Finance Minister) कहा कि आजादी के पहले दिल्ली की आबादी चार लाख थी। 2047 तक दिल्ली की आबादी (Delhi Population) बढ़कर तीन करोड़ से भी ज्यादा होने का अनुमान है। दिल्ली के वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि दिल्ली सरकार देश की पहली टीचर्स यूनिवर्सिटी (Teachers University) खोलेगी। जहां देश और दुनिया के लिए बेहतरीन शिक्षक तैयार किए जाएंगे। सरकार नया एजुकेशन बोर्ड बनाएगी, 100 स्कूल ऑफ एक्सीलेंस खोलने के साथ दुनिया का पहला ‘वर्चुअल दिल्ली मॉडल’ स्कूल स्थापित करेगी। ओलंपिक (Olympics) खेल की मेजबानी करने का लक्ष्य दिल्ली (Delhi Govt.) सरकार ने आजादी की सौवीं वर्षगांठ पर साल 2048 के 39वें ओलंपिक खेल की मेजबानी करने का लक्ष्य बनाया है। कम से कम 10 खेल क्षेत्रों में अंतराष्ट्रीय मेडल विजेता तैयार करने का लक्ष्य होगा।

मुफ्त में लगेगी कोरोना वैक्सीन

केजरीवाल सरकार दिल्ली वासियों को अपने सरकारी अस्पतालों में निशुल्क कोविड वैक्सीन (Free Covid Vaccine) उपलब्ध करवाएगी। निशुल्क कोविड वैक्सीन पर (Free Covid Vaccine) दिल्ली सरकार 50 करोड़ रुपए खर्च करेगी। दिल्ली में 38 मल्टी स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल, 181 एलोपैथिक औषधालय, 496 आम आदमी मोहल्ला क्लिनिक, 27 पॉलीक्लीनिक, 60 सीड प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, 46 आयुर्वेदिक, 22 यूनानी और 107 होम्योपैथिक औषधालय, 78 डे शेल्टर होम, 311 नाइट शेल्टर होम और 22 मोबाइल क्लीनिक बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है