×

‘दिल्ली की घटना में BJP के समर्थक शामिल थे, अंग्रेजों से ज्यादा जुल्म कर रही सरकार’

मेरठ महापंचायत में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बोला केंद्र पर हमला

‘दिल्ली की घटना में BJP के समर्थक शामिल थे, अंग्रेजों से ज्यादा जुल्म कर रही सरकार’

- Advertisement -

मेरठ। कृषि कानूनों के खिलाफ अब बड़े स्तर पर किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) का आयोजन किया जा रहा है। इन महापंचायत में कांग्रेस (Congress) सहित दूसरे दलों के बड़े नेता भी पहुंच रहे हैं। आज मेरठ (Meerut) में आयोजित महापंचायत में आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) भी पहुंचे। कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को लेकर पहले से ही मुखर रहने वाले अरविंद केजरीवाल ने जमकर केंद्र सरकार पर हमला बोला। यही नहीं, ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा को भी केजरीवाल ने केंद्र सरकार की साजिश बताया।


यह भी पढ़ें: मन की बात : पीएम नरेंद्र मोदी ने पानी से लेकर, तमिल भाषा पर कही अपने दिल की बात

आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज मेरठ (Meerut) में आयोजित महापंचायत में केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। केजरीवाल अपने पूरे भाषण (Kejriwal Speech) में केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार पर ही निशाना साधते रहे। उन्‍होंने उत्तर प्रदेश सरकार (UP Govt) को लेकर कहा कि यूपी सरकार किसानों का बकाया इसलिए नहीं चुका रही है, क्‍योंकि इनका मील मालिकों (Mill Owners)से यारी चल रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) पर बरसते हुए कहा कि सरकार किसानों पर अंग्रेजों (British) से ज्‍यादा जुल्‍म कर रही है।

यह भी पढ़ें:  राहुल के कमेंट पर शाह का रिप्लाई, दो साल पहले बन चुका है मत्स्य विभाग-आप छुट्टी पर थे

दिल्‍ली के सीएम (Delhi CM) ने कहा कि दिल्‍ली बार्डर (Delhi Border) पर बैरियर लगाए गए हैं। मोटी- मोटी कीलें लगाई गई हैं। किसान तीन महीनों से सड़क पर ठंड और गर्मी में बैठकर कानूनों को वापस लेने का विरोध कर रहे हैं, लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही। उन्‍होंने कहा कि सरकार किसानों को देशद्रोही (Terrorist) बता रही है। जबकि उनके ही परिवार के भाई बार्डर (Border) पर जाकर देश की रक्षा कर रहे हैं। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी समर्थक ही दिल्‍ली की घटना में शामिल थे। केंद्र सरकार का प्‍लान था कि किसानों का रुट डायवर्ट कर उन्हें दिल्‍ली भेजा जाए, ताकि इन पर मुकदमा दर्ज कर आंदोलन खत्म किया जा सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है