Covid-19 Update

1,64,355
मामले (हिमाचल)
1,28,982
मरीज ठीक हुए
2432
मौत
25,227,970
मामले (भारत)
164,275,753
मामले (दुनिया)
×

Delhi High Court ने #AIIMS की नर्सों की हड़ताल पर लगाई रोक, काम पर लौटने को कहा

मामले की अगली सुनवाई अब 18 जनवरी को होगी

Delhi High Court ने #AIIMS की नर्सों की हड़ताल पर लगाई रोक, काम पर लौटने को कहा

- Advertisement -

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court ) ने एम्स की नर्सों की हड़ताल पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने एम्स नर्सिंग यूनियन (AIIMS Nursing Union) से काम पर लौटने को कहा है। एम्स की याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस नवीन चावला द्वारा ये आदेश दिया गया है। एम्स प्रशासन की तरफ से कहा गया कि नर्सों की मांगों पर विचार किया जा रहा है। एम्स की ओर से अदालत में ये भी कहा गया कि कोविड महामारी का समय है, लिहाजा हड़ताल पर नहीं जा सकते। मामले की अगली सुनवाई अब 18 जनवरी को होगी।


यह भी पढ़ें: #AIIMS_Delhi के डायरेक्टर ने सुनाई खुशखबरी – भारत में जनवरी तक आ सकती है #Corona_Vaccine

बता दें कि AIIMS की 5000 नर्स वेतन बढ़ोतरी समेत दूसरी मांगों को लेकर सोमवार से हड़ताल पर हैं। इससे पहले नर्सों को AIIMS प्रशासन ने आगाह किया था कि अगर ड्यूटी रोस्टर में मौजूद नर्स अपनी ड्यूटी पर नहीं आती हैं तो उन्हें अनुपस्थित मार्क किया जाएगा। एम्स प्रशासन ने नर्सों की कमी को पूरा करने के लिए 170 नर्सों को आउटसोर्स किया। यानी कि बाहर से 170 नर्स मंगाई हैं। एम्स प्रशासन ने प्रदर्शन कर रहीं नर्सों को पत्र लिखकर कहा था कि ड्यूटी पर रिपोर्ट कर रही नर्सों के लिए उपस्थिति दर्ज करना अनिवार्य है। ऐसा ना करने पर उन्हें कार्य से अनुपस्थित माना जाएगा। एम्स प्रशासन ने नर्सों को यह भी कहा कि केंद्र सरकार के आदेश के मुताबिक, नर्सिंग के काम रुकावट नहीं होनी चाहिए। इस आदेश को नहीं मानना आपदा प्रबंधन कानून 2005 के तहत अपराध माना जाएगा। एम्स ने कहा कि संस्थान के डायरेक्टर पहले ही नर्सों से अपील कर चुके हैं कि वे काम पर लौट आएं।


बता दें कि नर्स छठे वेतन आयोग की विसंगतियों को दूर करने की मांग कर रही हैं। वे नर्स संविदा पर बहाली पर रोक की मांग कर रही हैं। नर्सिंग ऑफिसर की नियुक्ति में लिंग आधारित आरक्षण को खत्म करने की भी मांग की जा रही है। इसके अलावा नर्स अपने लिए दूसरी बेहतर सुविधाओं की मांग कर रही हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है