Covid-19 Update

1,98,313
मामले (हिमाचल)
1,89,522
मरीज ठीक हुए
3,368
मौत
29,419,405
मामले (भारत)
176,212,172
मामले (दुनिया)
×

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में बताया- सुनंदा पुष्कर के शव पर चोट के 15 निशान थे

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में बताया- सुनंदा पुष्कर के शव पर चोट के 15 निशान थे

- Advertisement -

नई दिल्ली। पत्नी सुनंदा पुष्कर (Sunanda Pushkar) की मौत को लेकर कांग्रेस नेता शशि थरूर पर आरोप तय करने की बहस के दौरान दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने कोर्ट को बताया कि सुनंदा के शरीर पर चोट के 15 निशान थे, जो किसी हाथापाई (Melee) में लगी होंगी। पुलिस ने कोर्ट में कहा, ‘हमारा केस मानसिक व शारीरिक क्रूरता का है जिसने मृतका को आत्महत्या करने के लिए उकसाया।’ पुलिस के मुताबिक, हाथापाई के दौरान ये चोटें लगी थीं। बता दें कि पुष्‍कर की लाश 17 जनवरी, 2014 को साउथ दिल्‍ली के एक होटल रूप में मिली थी। दिल्‍ली पुलिस के वकील ने कोर्ट में कहा कि हमारा केस ये है कि मृतका (पुष्‍कर) संग मानसिक के साथ-साथ शारीरिक निर्दयता भी हुई जिससे वह आत्‍महत्‍या के जरिए मजबूर हुईं।

यह भी पढ़ें- आश्रम में आने वाली महिलाओं-बच्चियों के साथ जबरन संबंध बनाता था ये बाबा, मामला दर्ज

वहीं अभियोजन पक्ष की ओर से दिए गए तर्कों का जवाब देते हुए थरूर के वकील विकास पाहवा ने कहा कि प्रॉसीक्‍यूटर ने अभी जिरह शुरू भर की है। उन्‍हें अपने तर्क खत्‍म कर लेने दीजिए, मैं एक हर तर्क का जवाब दूंगा। वह अभी चुनिंदा चीजें पढ़ रहे हैं। सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष ने सोमवार को अदालत के समक्ष अहम साक्ष्य पेश किए। अभियोजन पक्ष ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद शशि थरूर द्वारा पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार को लिखे गए पत्रों का हवाला देते हुए कहा कि इन पत्रों में थरूर ने मेहर को ‘मेरी प्रियतम’ कहकर संबोधित किया था। राउज एवेन्यू स्थित विशेष सीबीआई न्यायाधीश अजय कुमार कुहार की अदालत में अभियोजन पक्ष के वकील अतुल श्रीवास्तव द्वारा थरूर के पत्र को पढ़े जाने पर बचाव पक्ष ने आपत्ति जताई।


 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है