Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

नोटबंदीः घरेलू महिलाओं के अढ़ाई लाख तक नकद जमा करने पर जांच नहीं

आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण ने कहा,इसे आय नहीं माना जा सकता

नोटबंदीः घरेलू महिलाओं के अढ़ाई लाख तक नकद जमा करने पर जांच नहीं

- Advertisement -

नोटबंदी (Demonetisation)के बाद घरेलू महिलाओं (Domestic Women) द्वारा बैंक,डाकघर में जमा की गई 2.5 लाख रुपए तक की नकद राशि आयकर जांच के दायरे में नहीं आएगी। आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण ने कहा है कि इसे आय नहीं माना जा सकता। यानी गैर-नौकरीपेशा महिलाओं के लिए इसे बड़ी छूठ कहा जा सकता है। दायर याचिका पर फैसला देते हुए आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण (Income Tax Appellate Tribunal)की आगरा पीठ ने कहा कि ये आदेश ऐसे सभी मामलों के लिए एक मिसाल माना जाएगा।

यह भी पढ़ें: अब इंस्टाग्राम स्टोरी में शेयर कर सकेंगे ट्वीट, Twitter ने ऐड किया नया फीचर

मामले के अनुसार, ग्वालियर की एक घरेलू महिला उमा अग्रवाल ने वित्त वर्ष 2016-17 के लिए अपने आयकर रिटर्न में कुल 1,30,810 रूपए की आय घोषित की थी, जबकि नोटबंदी के बाद उन्होंने अपने बैंक खाते में 2,11,500 रूपए नकद जमा किए। आयकर विभाग ने इस मामले को जांच के लिए चुना और निर्धारिती से 2.11 लाख रूपए की अतिरिक्त नकद (Cash) जमा राशि की व्याख्या करने के लिए कहा गया था। उमा ने बताया कि उनके पति, बेटे, रिश्तेदारों द्वारा परिवार के लिए दी गई राशि से उन्होंने उपरोक्त राशि बचत के रूप में जमा की थी। सीआईटी अपील ने इसे स्वीकार नहीं किया और 2,11,500 रूपए की नकद जमा राशि को अस्पष्टीकृत धन मानते हुए कर निर्धारण अधिकारी के आदेश की पुष्टि की। इसके बाद उमा ने आईटीएटी (ITAT) का दरवाजा खटखटाया। न्यायाधिकरण ने सभी तथ्यों और तर्कों को देखने के बाद कहा, हमारा मानना है कि नोटबंदी के दौरान जमा की गई राशि को उनकी आय के रूप में नहीं माना जा सकता है। इसलिए अपील सही है व नोटबंदी के दौरान 2.50 लाख रूपए तक जमा करने वाली महिलाओं को छूट दी जाती है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है