×

छोटी काशी पहुंचे देव कमरूनाग, कल अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में लेंगे हिस्सा

देव कमरूनाग ने राज माधव राय मंदिर के बाद राज परिवार के पास दी दस्तक

छोटी काशी पहुंचे देव कमरूनाग, कल अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में लेंगे हिस्सा

- Advertisement -

मंडी। अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव (International Shivaratri Festival)में भाग लेने के लिए मंडी जनपद के अराध्य माने जाने वाले देव कमरूनाग एक वर्ष के बाद मंडी शहर पहुंच गए हैं। देव कमरूनाग 12 मार्च से शुरू होने जा रहे अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में भाग लेने आए हैं। देव कमरूनाग (Dev Kamarunag) के काफीला ने करीब तीन बजे मंडी शहर में प्रवेश किया। ढोल नगाड़ों की थाप के साथ निकली देव कमरूनाग की शोभायात्रा के सभी ने दर्शन किए और आशीवार्द लिया। सबसे पहले देव कमरूनाग की छड़ी को राज माधव राय मंदिर ले जाया गया जहां प्रशासन की तरफ से डीसी मंडी (DC Mandi) ऋग्वेद ठाकुर ने उनका स्वागत किया। इसके बाद देव करूनाग को परंपरा के अनुसार राज परिवार के सदस्यों के पास ले जाया गया जहां परिवार के मुखिया ने देव कमरूनाग का स्वागत किया।वहीं, देव कमरूनाग के पुजारी और अन्य कारदारों ने हाल ही में हुए राज परिवार के पिछले मुखिया के निधन पर शोक जताया और परिवार को सांत्वना दी।


यह भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि मेले में शिरकत करने के लिए बड़ा देव कमरूनाग हुए मंडी रवाना

 

 

डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि देव कमरूनाग और अन्य देवी देवताओं का मंडी (Mandi) में आगमन हो गया है। उन्होंने बताया कि अगले कल यानी शिवरात्रि के मौके पर मंडी शहर में बड़े हवन का आयोजन किया जाएगा और लघु शोभायात्रा भी निकाली जाएगी। उन्होंने बताया कि 12 मार्च को अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव का शुभारंभ प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर करेंगे। उन्होंने लोगों से इस महोत्सव में बढ़चढ़ कर भाग लेने का आहवान किया हैं

 

 

देव कमरूनाग के मंडी आगमन से पहले बारिश की बौछारें

वहीं देव कमरूनाग के मंडी आगमन से पहले बारिश की बौछारें भी गिरी। मान्यताओं के अनुसार देव कमरूनाग को बारिश का देवता भी कहा जाता है और ऐसा बताया जाता है कि देवता के मंडी आगमन से पहले बारिश की बौछारें हर वर्ष गिरती हैं। लोगों में देव कमरूनाग के मंडी आगमन को लेकर भारी उत्साह देखने को मिल रहा है। देव कमरूनाग 18 मार्च तक मंडी शहर के टारना माता मंदिर में विराजमान रहेंगे और उसके बाद वापिस अपने मूल स्थान को लौट जाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है