Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,723,560
मामले (भारत)
199,307,256
मामले (दुनिया)
×

DGP बोले, गुड़िया गैंगरेप-मर्डर केस में Police की छवि को पहुंचे नुकसान को सुधारना बड़ी चुनौती

DGP बोले, गुड़िया गैंगरेप-मर्डर केस में Police की छवि को पहुंचे नुकसान को सुधारना बड़ी चुनौती

- Advertisement -

छवि को सुधारने के लिए लोगों के बीच जाने को कहा

शिमला।गुड़िया गैंपरेप और मर्डर के अनसुलझे मामले, इस मामले में बनाए गए एक आरोपी की पुलिस कस्टडी में मौत और इस मामले के आरोप में जेल में एक आईजी समेत नौ पुलिस कर्मियों के बंद होने के मामले में पुलिस की छवि को खासा नुकसान पहुंचाया है। वहीं, मंडी के करसोग में हुए वन रक्षक होशियार सिंह के मामले और इसी जिले के मुख्यालय में एक व्यक्ति को जबरन झूठे केस में फंसाने में भी पुलिस की किरकिरी हुई है। इन घटनाओं से पुलिस की छवि को पहुंचे नुकसान को सुधारना अब पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन गई है।  डीजीपी सोमेश गोयल ने यहां मीडिया से बातचीत में बोल रहे थे। वे यहां पुलिस द्वारा साइबर क्राइम, ऑनलाइन सेवाओं की उपलब्धता को लेकर स्थापित पुलिस शिकायत कक्ष के उद्घाटन करने पहुंचे थे। इस मौके पर डीजीपी गोयल ने कहा कि ऐसी घटनाओं से पुलिस की छवि को नुकसान हुआ है और इसे सुधारने के लिए लोगों के बीच जाने को कहा है। उन्होंने कहा कि यह चिंता की बात है कि कैसी व्यवस्था हो रही है और इससे कैसे ह्रास हो रहा है। उनका कहना है कि छवि को सुधारने के लिए एक कार्यक्रम से कुछ होने वाला नहीं है। इसके लिए लगातार कार्य करने होंगे और लोगों के बीच जाना होगा और इसके लिए वे अपने अफसरों से कह रहे हैं। 

निष्पक्ष होकर जांच करें अफसर, लोगों का जीते विश्वास

गोयल ने कहा कि वे अपने अफसरों से कह रहे हैं कि वे निष्पक्ष होकर जांच करें और लोगों के विश्वास को जीतने का प्रयास करें। उनका कहना था कि पुलिस का जो नारा है उसके अनुरूप कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि हर जिले में जांच के सैल को मजबूत किया जा रहा है और अलग से एसआईयू का गठन किया जा रहा है। उनका कहना था कि लोगों में हिमाचल पुलिस की छवि थी, उसे बहाल किया जाएगा और इसके लिए वे कार्य करेंगे।


हिमाचल पुलिस को साइबर एक्सपर्ट बनाया जाएगा

डीजीपी सोमेश गोयल ने कहा कि हिमाचल पुलिस को साइबर एक्सपर्ट बनाया जाएगा। इसके लिए हिमाचल के पुलिस अफसरों को साइबर क्राइम का विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा और इसके लिए उन्होंने सीबीआई से बात की है। उन्होंने कहा कि अभी हिमाचल के 30 पुलिस अफसर सीबीआई के ट्रेनिंग सेंटर जाएंगे और वहां पर इसका विशेष प्रशिक्षण लेंगे। उनका कहना था कि यह क्रम लगातार चलता रहेगा और फिर वे हर थाने में साइबर एक्सपर्ट तैनात किए जाएंगे। सोमेश गोयल ने कहा कि आज सबसे बड़ा खतरा साइबर क्राइम का है और इसके प्रति लोगों में जागरुकता होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि पुलिस रेजिंग डे कार्यक्रम की कड़ी में आज यहां रिज मैदान पर पुलिस द्वारा ऑनलाइन उपलब्ध करवाई जा रही जानकारी दी जा रही है और इसमें यह भी लोगों को बताया जा है कि फुसबुक मेल अकाउंट आदि हैक होने पर कैसे मदद लेनी है और पुलिस उनके लिए हमेशा मदद को खड़ी है। उन्होंने कहा कि इस समय पुलिस द्वारा 14 ऑनलाइन सेवाएं और मोबाइल एप पर 9 सेवाएं दी जा रही हैं।

सेना के अफसर के खिलाफ परचे बंटने के मामले में हो रही जांच

धर्मशाला के समीप योल कैंट में सेना के अफसर के खिलाफ और देश विरोधी परचे बंटने के मामले में डीजीपी ने कहा कि इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने वहां सारे दस्तावेज जब्त कर लिए हैं और उनकी पड़ताल की जा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है