Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

HPSSC के माध्यम से होगी Dharamshala MC में भर्ती, ये चार बड़े फैसले

HPSSC के माध्यम से होगी Dharamshala MC में भर्ती, ये चार बड़े फैसले

- Advertisement -

धर्मशाला। नगर निगम धर्मशाला का बजट पेश किया गया। नगर निगम के मेयर देवेंद्र जग्गी ने आगामी वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 139 करोड़ 83 लाख रुपए का बजट पेश किया। यह बजट पिछले साल के मुकाबले 22 फीसदी ज्यादा है। इसके अलावा धर्मशाला नगर निगम (Dharamshala MC) में करीब दस पद हिमाचल कर्मचारी चयन आयोग (HPSSC) हमीरपुर के माध्यम से सीधी भर्ती से भरने का निर्णय लिया है। इसके लिए आयोग को प्रस्ताव भेजने का फैसला लिया है। साथ ही इस बार बजट बैठक में एमसी धर्मशाला में चार बड़े निर्णय लिए हैं, जोकि एमसी के लिए मील का पत्थर साबित होंगे।


मेयर देवेंद्र जग्गी ने जानकारी देते हुए बताया कि विकास में जन सहयोग योजना के समांतर जन सहभागिता में विकास योजना शुरू करने का निर्णय लिया है। इसमें कम्यूनिटी बेस्ड कार्यों के लिए 50-50 फीसदी सहभागिता का निर्णय लिया है। विकास में जनसहयोग योजना में 70-30 की रेशो थी। इसमें किसी भी विकास कार्य के लिए 70 फीसदी लोगों और 30 फीसदी सरकार का होता था।


यह भी पढ़ें: BSC Chemistry और PGT सहित भरे जाएंगे ये पद, 27 को होंगे कैंपस इंटरव्यू

अब नगर निगम एरिया में श्मशानघाट, सामुदायिक भवन, महिला मंडल भवन आदि निर्माण पर नगर निगम 50 फीसदी राशि देगी। सोलर रूफ सिस्टम योजना में भी सरकार की सबसिडी के अलावा पांच फीसदी सबसिडी अतिरिक्त देने का फैसला लिया है। वहीं, विवाह समारोह, पार्टी व धाम में प्लास्टिक की प्लेट आदि का इस्तेमाल न करके हरे पत्तल का प्रयोग करने वालों को 1100 रुपए की राशि प्रोत्साहन के रूप में दी जाएगी। ग्रीन बिल्डिंग में निर्माण को लेकर 50 फीसद की छूट दी जाएगी।

वरिष्ठ नागरिकों को बिजली, पानी व अन्य प्रकार की एनओसी (NOC) पर फीस में 50 फीसद छूट देने का भी फैसला लिया है। धर्मशाला शहर को देश की सौ स्मार्ट सिटी में पर्यावरण संरक्षण की दिशा में टॉप टेन में लाने का भी फैसला लिया है। मार्च से दोहरी सफाई व्यवस्था शहर में शुरू करने का ऐलान किया है। इसमें डोर-टू-डोर के अलावा शहर के सार्वजनिक स्थानों की अलग से सफाई की व्यवस्था का प्रावधान होगा। छह माह तक इस व्यवस्था को पुख्ता बनाने के लिए शहरियों को दो-दो कूड़ेदान भी दिए जाएंगे। लोग घर से ही सूखा व गीला कूड़ा अलग-अलग कर कर्मियों को दे सकें। इससे डंपिंग साइट में कूड़े को ठिकाने लगाने के लिए बड़ी बाधा न उत्पन्न हो। हालांकि, साइट पर भी 20 लोगों की टीम कूड़े को अलग-अलग करने के लिए तैनात रहेगी। स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से नागरिकों को जागरुक करने का भी निर्णय लिया है। मेयर देवेंद्र जग्गी ने कहा कि इस बैठक में ऐसे कई फैसले लिए हैं, जोकि पहले किसी नगर निगम ने नहीं लिए हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है