Covid-19 Update

2,06,161
मामले (हिमाचल)
2,01,388
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,693,625
मामले (भारत)
198,846,807
मामले (दुनिया)
×

Dhumal का वारः Virbhadra Govt के पास न समझ और न ही सोच

Dhumal का वारः Virbhadra Govt के पास न समझ और न ही सोच

- Advertisement -

Dhumal Attack : शिमला। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर तथा गोवा के बाद अब हिमाचल प्रदेश में भी प्रचंड बहुमत से बीजेपी अपनी सरकार बनाएगी। प्रदेश में कांग्रेस की वीरभद्र सरकार के पास प्रदेश के विकास के लिए न समय है, न समझ है और न ही सोच है। उन्होंने अपना सारा कार्यकाल भ्रष्टाचार के केसों से बचने के लिए न्यायालयों तथा वकीलों के चक्कर काटने में लगा दिया है। यह बात पूर्व सीएम व नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने परिवर्तन रथ यात्रा को लेकर एक विशेष बैठक के दौरान अपने संबोधन में कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश से माफियाराज को समाप्त करने में यह रथ यात्रा अहम भूमिका निभाएगी।

प्रदेश महामंत्री चंद्रमोहन ठाकुर ने बताया कि शिमला संसदीय क्षेत्र में परिवर्तन रथ यात्रा का शुभारंभ 14 जून को सिरमौर जिला की हरिपुरधार के माता भंगायणी मंदिर से होगा और यह रथ यात्रा शिमला लोक सभा क्षेत्र की सभी 17 विधानसभा क्षेत्रों से गुजरेगी। इस यात्रा के दौरान तीन छोटी जनसभाएं तथा बड़ी जनसभाएं होंगी।


बड़ी जनसभाओं को संबोधित करेंगे बीजेपी के दिग्गज

प्रदेश के वरिष्ठ नेतागण पूर्व सीएम एवं नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल, पूर्व सीएम एवं सांसद शांता कुमार, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा, प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक सतपाल सिंह सत्ती इन बड़ी जनसभाओं को संबोधित करेंगे। चंद्रमोहन ठाकुर ने बताया कि उपरोक्त शिमला में सम्पन्न हुई, जिसमें पूर्व सीएम एवं नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल, सांसद वीरेन्द्र कश्यप, विधायक एवं मुख्य प्रवक्ता डॉ. राजीव बिन्दल, विधायक सुरेश भारद्वाज, केएल ठाकुर, डॉ. राजीव सहजल, गोविन्द शर्मा, बलदेव तोमर, सुरेश कश्यप, बलवीर वर्मा, शिमला संसदीय क्षेत्र के सभी जिलाध्यक्ष, सभी मंडल अध्यक्ष, 2012 में बीजेपी के प्रत्याशी उपस्थित रहे।  चंद्रमोहन ठाकुर ने बताया कि इस परिवर्तन रथ यात्रा का संयोजक प्रदेश उपाध्यक्ष  गणेश दत्त को बनाया गया तथा प्रदेश के तीनों महामंत्री कृपाल परमार, चंद्रमोहन ठाकुर, राम सिंह तथा प्रदेश उपाध्यक्ष एवं विधायक रणधीर शर्मा को क्रमशः कांगड़ा, शिमला, मंडी व हमीरपुर संसदीय क्षेत्र का प्रभारी बनाया गया है।

शिक्षा का गिरता स्तर हिमाचल के लिए चिंता का विषय

पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने शिक्षा के गिरते स्तर पर भी चिंता प्रकट की है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से कई क्षेत्रों से इस बात की शिकायत आ रही है कि सातवीं, आठवीं के बच्चे पहली, दूसरी की किताबें नहीं पढ़ पाते या वे उसका अर्थ नहीं समझ पाते। यह हिमाचल के लिए चिंता का विषय है तथा सत्तारूढ़ पार्टी को अनावश्यक स्कूल खोलने की जगह जो स्कूल चल रहे हैं, उनमें शिक्षा का स्तर अच्छा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि शिक्षा का स्तर बढ़ाने व सरकारी व प्राइवेट स्कूलों की खाई को पाटने के लिए सरकारी स्कूलों के स्तर को प्राइवेट स्कूलों की बराबरी पर लाना होगा।धूमल ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल में प्रदेश में रेगुलेटरी कमीशन का गठन कर शिक्षा के स्तर, फीस स्ट्रक्चर तथा उच्च गुणवत्ता को लागू करने का प्रयास किया था तथा उसके अच्छे परिणाम देखने को मिले थे।

ये भी पढ़ें  : MC Election का रोनाः Virbhadra-Dhumal की एक-दूसरे पर…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है