- Advertisement -

बिग बी का नया डायलॉग: “तुम नहीं, तुम्‍हारी रूह गुलाम हो चुकी है, उसे आजाद करना होगा”

''ठग्स ऑफ हिंदुस्तान'' नहीं उतरी जनता की अपेक्षाओं पर खरी

0

- Advertisement -

नई दिल्ली। ”ठग्स ऑफ हिंदुस्तान” को गुरुवार को 5000 से ज्‍यादा स्‍क्रीन्‍स पर रिलीज किया गया। इस फिल्म के डायलॉग्स बहुत पसंद किए गए हैं। बिग बी यानी अमिताभ बच्‍चन की आवाज इस फिल्म में “तुम नहीं, तुम्‍हारी रूह गुलाम हो चुकी है, उसे आजाद करना होगा” डायलॉग के साथ सुनाई देती है।

विजय कृष्ण के निर्देशन में बनी इस फिल्म में 18वीं शताब्‍दी की कहानी को दिखाया गया है। लेकिन आमिर और अमिताभ के अलावा के किरदार और डायलॉग्स को लोगों ने बहुत सराहा है। हालांकि फिल्म अपेक्षा से अच्छा नहीं कर पाई है, लेकिन इस फिल्म के यह डायलॉग्स जरूर काबिल-ऐ-तारीफ हैं-

अमिताभ बच्‍चन – ढाई दिन की दोपहरी, चांद रात अमावस की, शीशम के घोड़े पर होके सवार आएगी शामत गुनहगारों की”
– ”तुम नहीं, तुम्‍हारी रूह गुलाम हो चुकी है, उसे आजाद करना होगा”। फ‍िल्‍म के एंट्री सीन के बाद इस डायलॉग से पहली बार अमिताभ बच्‍चन परदे पर अपनी आमद पेश करते हैं।
– ”वैसे डरते तो सब चीज से हैं, लेकिन अगर आप सिखाएंगे तो बहादुरी भी सीख जाएंगे”- आमिर खान

- Advertisement -

Leave A Reply