Covid-19 Update

1,98,010
मामले (हिमाचल)
1,89,469
मरीज ठीक हुए
3,358
मौत
29,359,155
मामले (भारत)
176,047,505
मामले (दुनिया)
×

भोपाल से दिग्विजय के मुकाबले नरेंद्र तोमर को उतार सकती है बीजेपी 

भोपाल से दिग्विजय के मुकाबले नरेंद्र तोमर को उतार सकती है बीजेपी 

- Advertisement -

भोपाल। कांग्रेस (Congress) के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह (Disgvijay Singh) भोपाल सीट पर लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। राज्य के सीएम कमलनाथ ने शनिवार को खुद इसकी घोषणा की। बताया जाता है कि कांग्रेस की चुनाव समिति ने शुक्रवार को दिग्विजय सिंह का नाम फाइनल कर दिया। अब बदली हुई परिस्थितियों में बीजेपी इस प्रतिष्ठित सीट पर दिग्विजय के मुकाबले केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) को टिकट दे सकती है।
हिमाचल अभीअभी ने 13 मार्च को ही इस बात की संभावना जता दी थी कि दिग्विजय सिंह को कांग्रेस ट्रंप कार्ड के रूप में भोपाल से टिकट दे सकती है। होली मिलन के मौके पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कमलनाथ (Kamnath) ने दिग्‍विजय सिंह के चुनाव में उतरने की घोषणा की है। दिग्‍विजय सिंह 16 साल बाद सक्रिय राजनीति में लौट रहे हैं। दिग्विजय 2003 में 10 साल तक सीएम रहने के बाद वे सक्रिय राजनीति से दूर चले गए थे। यह उनका पहला लोकसभा चुनाव होगा।

यह भी पढ़ें: भोपाल सीट पर दिग्विजय सिंह को ट्रंप कार्ड बना सकती है कांग्रेस, बीजेपी में खलबली

बीजेपी को वॉकओवर देने के मूड में नहीं कांग्रेस 

इससे पहले कमल नाथ ने कहा था कि दिग्‍विजय सिंह को किसी मुश्किल सीट से चुनाव लड़ना चाहिए। पहले माना जा रहा था कि दिग्‍विजय को कांग्रेस भोपाल (Bhopal), इंदौर या विदिशा से उतार सकती है। भोपाल बीजेपी का पुराना गढ़ रहा है। यहां से बीजेपी पिछले 8 चुनावों में जीत दर्ज कर चुकी है। 2014 के लोकसभा चुनावों में यहां से बीजेपी के आलोक संजर विजयी रहे थे। वहीं 1999 में यहां से उमा भारती और 2004 और 2009 में कैलाश जोशी ने जीत दर्ज की थी। ऐसे में साफ है कि कांग्रेस किसी भी सीट पर बीजेपी को वॉकओवर देने के मूड में नहीं है।

यह भी पढ़ें: बिहार में एनडीए के 39 उम्मीदवारों का ऐलान, शत्रुघ्न, शाहनवाज का टिकट कटा

बीजेपी के लिए परेशानी बढ़ी 

भोपाल सीट पर बीजेपी पार्टी के प्रदेश महामंत्री विष्णुदत्त शर्मा और महापौर आलोक शर्मा में से एक को टिकट देने का मन बना रही थी। लेकिन बदले हुए हालात में पार्टी को नए सिरे से सोचना होगा। माना जा रहा है कि दिग्विजय जैसे कद्दावर राष्ट्रीय नेता के आगे आलोक शर्मा को उतारने के बजाय पार्टी केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर को उतार सकती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है