Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,563,421
मामले (भारत)
230,985,679
मामले (दुनिया)

चीन सीमा विवादः Air Force के अधिकारी करेंगे बैठक, राफेल का ऑपरेशनल स्टेशन बनाने पर होगी चर्चा

चीन सीमा विवादः Air Force के अधिकारी करेंगे बैठक, राफेल का ऑपरेशनल स्टेशन बनाने पर होगी चर्चा

- Advertisement -

भारत-चीन सीमा विवाद के बीच  भारतीय वायुसेना ( Air Force)के शीर्ष कमांडर इस सप्ताह बैठक करेंगे। इस बैठक में पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर स्थिति पर चर्चा  की जाएगी। अलावा इस माह के अंत में मिलने वाले राफेल फाइटर जेट( Rafael Fighter Jet) के लिए जल्द ऑपरेशनल स्टेशन( Operational station) बनाए जाने पर भी चर्चा की जाएगी।  वायुसेना के अधिकारियों ने कहा, शीर्ष कमांडर इस सप्ताह 22 जुलाई से शुरू होने वाले दो दिवसीय कमांडरों के सम्मेलन में मिलेंगे, जहां वे कई सुरक्षा मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे।

यह भी पढ़ें: Covid-19: आर्मी कमांडर ने जांची सेना की तैयारियां, DC Kangra को किया सम्मानित

 

बताया जा रहा है कि एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया की अध्यक्षता में होने वाली इस कॉन्फ्रेंस में उनके सभी 7 कमांडर इन चीफ शामिल होंगे। इस दौरान चीन के साथ सीमा पर तनाव और पूर्वी लद्दाख और उत्तरी सीमाओं पर वायुसेना की तैनाती को लेकर चर्चा होगी। बैठक का मुख्य एजेंडा चीन के साथ सीमाओं पर स्थिति और पूर्वी लद्दाख और उत्तरी सीमाओं में बल द्वारा की गई फॉरवर्ड तैनाती होगी। इस बैठक में सातों कमांडर-इन-चीफ शामिल होंगे। एयर फोर्स ने मॉडर्न टैकनीक वाले अपने फाइटर जेट मिराज-2000, सुखोई-30, मिग-29 एडवांस और फॉरवर्ड बेस पर तैनात किए हैं। यहां से दिन और रात दोनों ही ऑपरेशन को अंजाम दिया जा सकता है। चीन सीमा के फॉरवर्ड बेसों पर अपाचे अटैक हेलिकॉप्टर तैनात किए गए हैं। ये रात के समय भी पूर्वी लद्दाख के इलाके में गश्त कर सकते हैं।

फ्रांस से इसी महीने के आखिर में राफेल फाइटर जेट मिलने हैं, इसकी तैनाती को लेकर भी में चर्चा होगी। अधिकारियों ने बताया कि इन राफेल जेट की तकनीक बेहद एडवांस है और ये पूरी तरह हथियारों से लैस होंगे। इनकी जल्द से जल्द तैनाती से वायुसेना की ताकत बढ़ जाएगी।राफेल की दो स्क्वॉड्रन तैनात होने से भारत को लंबी दूरी तक ऑपरेशन में आसानी होगी। इसके साथ ही वायुसेना में फाइटर जेट्स की कमी की भी भरपाई हो सकेगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है