Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

हिमाचल की पंचायतों में स्थापित होंगे Display Panels, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए CM को देख सकेंगे

हिमाचल की पंचायतों में स्थापित होंगे Display Panels, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए CM को देख सकेंगे

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आम लोगों से सीधे जोड़े जाने की योजना पर काम चल रहा है। इसके लिए हिमाचल प्रदेश की सभी पंचायतों में डिस्प्ले पैनल (Display Panels) स्थापित करने की बात कही गई है। ये बात स्वयं सीएम जयराम ने आज प्रदेशभर के डीसी व बीडीओ के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा के दौरान कही है। उन्होंने कहा कि सभी पंचायत में डिस्प्ले पैनल स्थापित किए जाने चाहिए, ताकि वीडियो कॉन्फ्रेंस को आम लोग भी देख सके। जय राम ठाकुर ने कहा कि विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों की सूची पंचायतों को उपलब्ध करवाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस माह की 10 तारीख तक पंचायतों को यह सूची उपलब्ध करवाई जानी चाहिए। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों बीडीओ को निर्देश दिए कि वे लाभार्थियों के मोबाइल फोन पर वैबैक्स सॉफटवेयर डाउनलोड करवाकर उन्हें इसके प्रयोग का भी प्रशिक्षण प्रदान करें।

यह भी पढ़ें: जल जीवन मिशन के तहत 2022 तक Himachal के हर घर में लगेगा घरेलू कनेक्शन

 


 

सीएम जय राम ठाकुर ने निर्देश दिए कि प्रदेश सरकार (State Govt) द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों की सूची तैयार की जाए, ताकि प्रदेश सरकार उन लाभार्थियों के साथ संपर्क साध कर समन्वय स्थापित कर सकें। जय राम ठाकुर ने कहा कि हमें लगातार विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए लगातार संपर्क में रहने के लिए एक प्रणाली बनानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए तकनीक का सर्वोत्तम उपयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: बड़ी खबरः हिमाचल में एंट्री को E-Pass की नहीं जरूरत, अब करना होगा ऐसा

उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों को पंचायत स्तर पर विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों का डाटा तैयार करने के निर्देश दिए, ताकि इन सभी की त्वरित जानकारी उपलब्ध हो सके। मुख्य सचिव अनिल खाची ने कहा कि लाभार्थियों के आधार नम्बर (Aadhar Number) की जानकारी कोई भी ले सकता है, क्योंकि योजनाओं के लाभ सीधे हस्तांतरण के माध्यम से किए गए है। उन्होंने कहा कि यद्यपि प्रदेश में आने के लिए ई-पास (E- Pass)की आवश्यकता नहीं है, परन्तु राज्य में आने के लिए पंजीकरण अभी भी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ऐसा होने के बाद भी क्वारंटीन के नियमों में कोई परिवर्तन नही किया गया है तथा रेड जोन से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को क्वारंटीन किया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है