Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,617,100
मामले (भारत)
231,605,504
मामले (दुनिया)

‘शाहीन बाग की महिलाएं 4-5°C की ठंड में भी नहीं मर रहीं, नोटबंदी के दौरान लाइन में जान जा रही थी’

‘शाहीन बाग की महिलाएं 4-5°C की ठंड में भी नहीं मर रहीं, नोटबंदी के दौरान लाइन में जान जा रही थी’

- Advertisement -

नई दिल्ली। अपने विवादित बयानों की वजह से अक्सर चर्चा में रहने वाले पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष (West Bengal BJP President Dilip Ghosh) ने एक नया बखेड़ा खड़ा कर दिया है। दिलीप घोष ने कहा है, ‘नोटबंदी के दौरान कहा गया कि लोग लाइन में खड़े होने की वजह से मर रहे हैं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘शाहीन बाग (Shaheen bagh) में महिलाएं बच्चों के साथ 4-5 डिग्री सेल्सियस तापमान में बैठी हैं लेकिन उनमें से कोई नहीं मर रहा है, क्या उन्होंने अमृत पी लिया है?’

यह भी पढ़ें: एक ही गांव के लापता नाबालिग लड़कों का नहीं लगा सुराग, छेड़ा सर्च अभियान

दिलीप ने कहा है कि दिल्ली के सर्द मौसम में भी प्रदर्शनकारी शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे हैं और फिर भी उन्हें कुछ नहीं हो रहा है, वहीं पश्चिम बंगाल में लोग खुदकुशी कर रहे हैं। गौरतलब है कि इससे पहले मंगलवार को ही बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने एक सभा में ऐलान किया है कि अगर 11 फरवरी को भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो वह एक घंटे में शाहीन बाग को खाली करा देंगे।

उन्होंने कहा था कि दिल्ली की जनता जानती है जो आग आज से कुछ साल पहले कश्मीर में लगी थी, वहां पर जो कश्मीरी पंडित हैं, उनकी बहन-बेटियों के साथ में रेप हुआ था। उसके बाद में वो आग उत्तर प्रदेश में लगती रही, हैदराबाद में लगती रही। केरल में लगती रही। आज वो आग दिल्ली के एक कोने में लग गई है। वहां पर (शाहीन बाग) लाखों लोग इकट्ठे हो जाते हैं, वो आग कभी भी दिल्ली के घरों तक पहुंच सकती है। हमारे घर में पहुंच सकती है। दिल्ली वालों को सोच समझकर फैसला लेना पड़ेगा। वे आपके घरों में घुसेंगे, आपकी बहनों और बेटियों को उठाएंगे, बलात्कार करेंगे, उनको मारेंगे।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है