×

कहां जाएगा Mani… बाल कल्याण समिति लेगी Decision

कहां जाएगा Mani… बाल कल्याण समिति लेगी Decision

- Advertisement -

धर्मशाला। कोटला में लावारिस हालत में मिले बालक मनी के भविष्य का फैसला जिला बाल कल्याण समिति मंगलवार को करेगी। समिति की मंगलवार को होने वाली बैठक में यह फैसला लिया जाएगा कि 12 वर्षीय मनी को परिजनों को सौंपा जाएगा या उसे बाल आश्रम में भेजा जाएगा। मनी के परिजन हालांकि धर्मशाला पहुंचे भी थे लेकिन गत सोमवार को बाल कल्याण समिति की बैठक में वह कोई भी ऐसा दस्तावेज नहीं दिखा सके थे जिससे उनका दावा साबित हो सके की मनी उनका ही बेटा है।


  • बालक की पहचान संबंधी कोई दस्तावेज नहीं दिखा पाए थे परिजन
  • चाइल्डलाइन के खुला आश्रय में है रखा है लुधियाना का मनी

मनी के परिजनों से समिति ने आधार कार्ड या किसी भी तरह का कोई ऐसा दस्तावेज दिखाने को कहा था लेकिन वह कोई भी ऐसा दस्तावेज उपलब्ध नहीं करवा सके। इसके बाद समिति ने उन्हें मनी को उनका होने के लिए साबित करने का एक और मौका देते हुए कुछ दिन का समय दिया था। अब देखना यह है कि मंगलवार को होने वाली जिला बाल कल्याण समिति की बैठक में क्या मनी के परिजन कोई दस्तावेज पेश कर पाते हैं या नहीं।

बताते चलें कि 18 फरवरी को कोटला में वन विभाग के कर्मी को मनी लावारिस हालत में मिला था। इसपर उस कर्मी ने कोटला पुलिस को सूचित किया और पुलिस ने मनी को खुला आश्रय धर्मशाला भेज दिया था। मनी को खोजते हुए उसके परिजन भी कोटला पहुंचे और वहां से वह धर्मशाला आए। यहां पर उन्हें बाल कल्याण समिति के सामने प्रस्तुत होने को कहा गया। बताया जा रहा है कि मनी मूल रूप से पंजाब के लुधियाना का निवासी है। उसके पिता वहां फेरी लगाने का काम करते थे लेकिन उनकी ट्रेन से कटकर मौत हो गयी थी।

पति की मौत के उपरांत मनी की मां ने जिला चंबा के धुलारा में दूसरी शादी कर ली और मनी को भी अपने साथ ले आई। वहीं से यह बालक भाग आया और कोटला में बरामद हुआ। इस मामले का दूसरा पहलू भी है। बताया जा रहा है कि 12 वर्ष की उम्र में ही मनी को नशे की लत लग गयी है। यह भी उसके घर से भागने का कारण माना जा रहा है। चाइल्ड लाइन और बाल कल्याण समिति इसी के चलते इस मामले को और भी गम्भीरता और सतर्कता से निपटाना चाहती है। चाइल्ड लाइन कांगड़ा के निदेशक रमेश मस्ताना का कहना है कि मनी को परिजनों को सौंपा जाएगा या आश्रम भेजा जाएगा यह फैसला जिला बाल कल्याण समिति की बैठक में लिया जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है