- Advertisement -

प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी न खाएं ये चीजें, हो सकता नुकसान

जो चीजें महिला ने पहले कभी खाई ही नहीं उनको भी खाने का मन करता है

0

- Advertisement -

एक महिला के लिए मां बनना जीवन का सबसे सुखद अहसास होता है। प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ महिलाओं को खट्टी चीजें खाने का मन करता है तो कुछ का मन मीछी चीजों को खाने का करता है।इस सब ऐसी चीज़ों को खाने की इच्छा होना या क्रेविंग होना आम है। कई बार जो चीजें महिला ने पहले कभी खाई ही नहीं उनको भी खाने का मन करता है। माना जाता है कि आयरन की कमी के कारण प्रेग्नेंट महिलाओं को ये सब चीज़ें खाने की इच्छा होती है।

साथ ही यह भी कहा जाता है कि शरीर में जिन चीज़ों की कमी होती है, उन चीज़ों की कमियों को दूर करने के लिए शरीर इन्द्रियों को प्रेरित करता है जिसके कारण ये सब होता है। लेकिन कुछ चीज़ें ऐसी भी होती हैं जिनका सेवन आपके और आपके होने वाले बच्चे के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। जानते हैं कौन प्रेग्नेंट महिलाओं किन चीजों से परहेज करना चाहिए….

शायद ही ऐसी कोई गर्भवती महिला होगी जिसे प्रेगनेंसी के दौरान जंक फूड खाने की इच्छा नहीं हुई होगी। जहां कुछ जंक फूड आपको सीधे नुकसान नहीं पहुंचाते वे ज़रूरी न्यूट्रिएंट्स को कम कर देते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप इस तरह के खाने की चीज़ों से परहेज करें और इनकी जगह पौष्टिक आहार का सेवन करें।

प्रेगनेंसी में हरी सब्जियों और फलों का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप बिल्कुल ताज़ी सब्जियों और फलों का सेवन कर रही हों। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि पहले से ही काट कर फलों और सब्ज़ियों को न रखें। इसके अलावा पैकेज सलाद भी आपके लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं।

प्रेगनेंसी के दौरान एक कप कॉफी कई महिलाओं को राहत दिलाती है लेकिन क्या आप यह जानती हैं कि इसमें जो कैफीन होता है वह आपके बच्चे के लिए बेहद खतरनाक होता है। इससे गर्भवती स्त्री का ब्लड प्रेशर बढ़ता है। साथ ही इसके सेवन से आपको बार बार पेशाब लगता है जिसके कारण शरीर में पानी की कमी होती है और आप डिहाइड्रेशन का शिकार हो सकती हैं।

गर्भावस्था में डेरी उत्पाद बेहद लाभकारी माने जाते है लेकिन ध्यान रहे कि आप जो भी उत्पाद खा रही हैं वह शोधित या पॉस्चराइज़्ड दूध से ही बना हो क्योंकि कच्चे दूध से बने उत्पादों में ढेर सारे बैक्टीरिया पाए जाते हैं जिससे आपको फ़ूड प्वाजनिंग , डायरिया, ऐंठन और उल्टी की शिकायत हो सकती है। इसके अलावा गर्भवती महिला को डिहाइड्रेशन, ज़्यादा थकान या फिर किडनी फेल होने का भी खतरा होता है।

मछली में कुछ ज़रूरी न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं जो मां के गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं लेकिन यह जान लेना बेहद आवशयक होता है कि कौन सी मछलियों का सेवन इस दौरान सुरक्षित होता है। बांगड़ा मछली, सफ़ेद टूना, स्वॉर्डफिश और शार्क का सेवन प्रेगनेंसी में करना सुरक्षित नहीं होता है।

शराब एक ऐसी चीज़ है जिसका सेवन प्रेगनेंट महिलाओं को बिल्कुल नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे न सिर्फ आपके बच्चे को नुकसान पहुंचता है बल्कि इसका बुरा असर पूरी ज़िंदगी आपकी सेहत पर रहता है। जिन महिलाओं को शराब की आदत होती है, वे प्रेगनेंसी के दौरान अपने डॉक्टर्स से सलाह ज़रूर लें।

 

- Advertisement -

Leave A Reply