×

Doctor दलजीत की मौत से गुस्से में चिकित्सक

Doctor दलजीत की मौत से गुस्से में चिकित्सक

- Advertisement -

ऊना/ हमीरपुर। तीमारदारों और डॉक्टरों के बीच जारी विवाद कम होने के बजाय ज्यादा ही भड़क गया है। शनिवार को चिकित्सक संघ और अस्पताल स्टाफ ने गेट मीटिंग कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही। गौर रहे कि अस्पताल में तैनात डॉक्टर दलजीत की मौत के लिए संघ विवाद करने वाले लोगों को ही दोषी ठहरा रहा है। इसी के चलते क्षेत्रीय अस्पताल के डॉक्टर दलजीत के निधन पर चिकित्सा अधिकारी संघ भड़का है।


  • ऊना-हमीरपुर में गेट मीटिंग कर जताया विरोध
  • दोषियों के खिलाफ मांगी कार्रवाई

संघ ने डॉक्टर दलजीत की मौत के लिए 22 दिसंबर को अस्पताल में विवाद करने वालो को दोषी करार दिया है। इसी संदर्भ में चिकित्सकों और स्टाफ ने गेट मीटिंग करके दो मिनट का मौन रखकर डॉक्टर दलजीत को श्रद्धांजलि दी।

चिकित्सकों ने कहा कि अगर समय रहते प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन ने उस विवाद पर उचित कदम उठाए होते तो आज डॉक्टर दलजीत जिंदा होते। संघ ने प्रदेश सरकार से मैडीपर्सन एक्ट लागू करने की मांग भी उठाई। जिला चिकित्सा संघ ने 23 जनवरी को सामूहिक अवकाश पर जाने का ऐलान भी किया। इसके बाद जिला के सभी चिकित्सक पैन डाउन स्ट्राइक में भी शामिल होंगे। उधर, हिमाचल प्रदेश मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन ने ऊना के चिकित्सक डॉ दलजीत सिंह की मौत के बाद हमीरपुर क्षेत्रीय अस्पताल में दो मिनट का मौन रखा और गेट मिटिग का आयोजन किया, जिसमें डॉ दलजीत सिंह की मौत पर प्रदेश सरकार और स्वास्थ्य विभाग को आड़े हाथों लिया है। संघ ने डॉ दिलजीत सिंह के निधन को मेडिकल फैकल्टी के लिए गहरा आघात बताया । हिमाचल प्रदेश मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष संजय रणौत ने बताया कि डॉ दलजीत सिंह की तनाव में होने से मौत हो गई। उन्होंने कहा कि संघ पिछले तीन सालों से मेडीपर्सन एक्ट को लागू करने की मांग कर रहा है, लेकिन बार-बार मांगों को अनदेखा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर मेडीपर्सन एक्ट को लागू किया होता तो डॉ दलजीत जैसे डॉक्टर की मौत नहीं होती। उन्होंने बताया कि 23 जनवरी को मास कैजुअल लीव लेकर आंदोलन की शुरूआत करेंगे। उन्होंने बताया कि इससे आपातकालीन सेवाएं बाधित नहीं होगी ।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है