Covid-19 Update

56,802
मामले (हिमाचल)
55,071
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,543,659
मामले (भारत)
94,312,257
मामले (दुनिया)

#Corona Warriors को रात के अंधेरे में धकेल दिया पटलांदर, कौन कर रहा विश्रामगृह पर कब्जे की तैयारी-जाने  

#Corona Warriors को रात के अंधेरे में धकेल दिया पटलांदर, कौन कर रहा विश्रामगृह पर कब्जे की तैयारी-जाने  

- Advertisement -

भोरंज। भोरंज से कांग्रेस प्रत्याशी रह चुके (Congress Leader) सुरेश कुमार ने विश्राम गृह में स्थापित कोविड सेंटर (Covid Center) से रात के वक्त डॉक्टर व अन्य स्टाफ को निकालकर पटलांदर विश्राम गृह (Patlander Rest House) में शिफ्ट करना दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि रात के समय में उन कर्मचारियों को निकालना जो कि अपनी जान को जोखिम में डालकर करोना महामारी से जनता की रक्षा में जुटे हुए हैं अति दुखद है। प्रशासन और सरकार के पास ऐसी कौन सी मजबूरी रही होगी जिसके चलते इन स्वास्थ्य कर्मचारियों को यहां से तब्दील करना पड़ा। उन्होंने कहा कि जहां एक तरफ देश में कोरोना महामारी में जुटे ऐसे कोरोना वारियर्स (Corona Warriors) को सम्मानित किया जा रहा है, वहीं भोरंज में इन वारियर्स को अपमानित किया जा रहा है। उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर से इस मुद्दे पर हस्तक्षेप करने का की मांग की है, तथा इस कार्य में संलिप्त अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

 

यह भी पढ़ें: खुद को पत्रकार बताकर RSS प्रचारक से की मारपीट, BJP विधायकों-कार्यकर्ताओं का हंगामा 

 

 

 

 

 

 

सुरेश कुमार (Suresh Kumar) ने कहा कि राजनीतिक दबाव बनाकर कौन लोग इस कोरोनाकाल में भोरंज विश्रामगृह पर कब्जा करना चाहते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले दो साल से भोरंज विश्राम गृह (Bhoranj Rest House) पर एक राजनीतिक परिवार ने कब्जा कर रखा है तथा यह विश्राम गृह सर्वजनिक ना रहकर व्यक्तिगत घर हो गया है। उन्होंने कहा कि यह परिवारिक अड्डा बनकर रह गया है और इसमें सरकारी आदेश नहीं  बल्कि परिवार के आदेश चलते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि एक सरकारी कर्मचारी विश्राम गृह के वीआईपी कमरे में बैठकर कर्मचारियों व अधिकारियों की बैठक लेता है और विभाग इस पर कोई कार्रवाई नहीं करता है। सुरेश कुमार ने कहा कि विभाग द्वारा विश्राम गृह में प्रोटोकॉल लिस्ट तक नहीं लगाई गई है और इसमें अवांछित लोग वीआईपी कक्ष का दुरुपयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर इस विश्राम गृह को कोविड में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए नहीं खोला गया और पटलांदर में शिफ्ट किए गए कर्मचारियों को यहां नहीं रखा गयाए तो बड़ा जन आंदोलन कांग्रेस पार्टी करेगी।

 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel

 


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है