Covid-19 Update

2,06,161
मामले (हिमाचल)
2,01,388
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,693,625
मामले (भारत)
198,846,807
मामले (दुनिया)
×

कहीं टॉक्सिक रिलेशनशिप में खुद को बर्बाद तो नहीं कर रहे आप, जानने के लिए पढे़ं पूरी खबर

कहीं टॉक्सिक रिलेशनशिप में खुद को बर्बाद तो नहीं कर रहे आप, जानने के लिए पढे़ं पूरी खबर

- Advertisement -

किसी भी रिश्ते की बुनियाद होती है प्यार और अंडरस्टैंडिंग। अगर ये दोनों चीजें ना हों तो वो रिश्ता ज्यादा समय नहीं टिक पाता। ऐसे रिश्ते में लड़का-लड़की दोनों को ही परेशानी झेलनी पड़ती है और दोनों में से कोई खुश नहीं रह पाता। इसके लिए बेहतर यही होगा कि इस तरह के रिश्तों (Relationship) से खुद को बाहर निकाला जाए। अगर सही समय पर ये फैसला नहीं लिया जाए, तो इसका मेंटल और इमोशनल हेल्थ (Mental and emotional health) पर काफी बुरा असर हो सकता है। सबसे पहले तो आपको पता होना चाहिए कि आप एक बुरे रिलेशन में हैं या अच्छे। इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्य़ान देना होगा फिर उसी के आधार पर कदम उठाना होगा।

यह भी पढ़ें: जैकलिन का ये अंदाज जीत रहा फैंस का दिल, पोल डांस का वीडियो मचा रहा धमाल

जिंदगी एक ही बार तो मिलती है तो उसे खुशी के साथ जीएं। इस डर में न रहें कि ये रिश्ता टूट गया तो फिर प्यार होगा या नहीं या कोई साथी मिलेगा या नहीं? इसकी जगह ये सोचें कि आप इस टॉक्सिक रिश्ते में रहते हुए अपनी जिंदगी का एक-एक पल नकारात्मकता और दुख में बिता रही हैं। इसके स्थान पर आप रिश्ते से बाहर निकलते हुए जिंदगी के इन्हीं पलों को अपने दम पर खुशी से भर सकते हैं।


टॉक्सिक रिलेशनशिप में से बाहर निकलने के लिए सबसे पहले उसके लक्षण पहचानना जरूरी है। अगर आपका साथी आप पर शक करता है, आप पर चिल्लाता है, आपको कंट्रोल करने की कोशिश करता है, झूठ बोलता है, आपको आपके अपनों से दूर करने की कोशिश करता है, आपको लेकर ओवर पजेसिव नेचर दिखाता है तो ये दर्शाता है कि आप हेल्दी रिलेशनशिप में नहीं हैं।

 

आपको खुद से प्यार करना सीखना होगा। आप दूसरों को ये अधिकार नहीं दे सकते कि वे जैसे चाहें आपके साथ बर्ताव करें और बदले में आप चुप रहें। अपने आत्मसम्मान का समझौता किसी भी हालत में न होने दें। अगर आपको किसी चीज से ठेस पहुंचती है या कोई भी नकारात्मक असर होता है, तो उसे खुलकर जाहिर करें। खुद के लिए स्टैंड लें। जब आप अपनी सेल्फ-रिस्पेक्ट और सेल्फ लव पर ध्यान देंगे, तो खुद ही टॉक्सिक पार्टनर से अलग होने की हिम्मत भी आ जाएगी।

इसके अलावा अगर साथी के कारण आपको रिश्ते में रहते हुए हमेशा हमेशा नेगेटिव, थका हुआ, असहाय जैसा महसूस होता है तो ये साफ इशारा है कि आपका रिलेशनशिप ठीक नहीं हैं। अक्सर देखा जाता है कि इस तरह की रिलेशनशिप में रहते हुए भी प्यार के कारण व्यक्ति खुद ही को बहलाने के लिए बहाना बनाने लगता है। उदाहरण के लिए साथी अगर हद से ज्यादा कंट्रोलिंग है तो वह खुद को समझाता है कि ये उसका केयर करने का तरीका है। हालांकि, सच इससे उलटा होता है। बेस्ट यही है कि आप ऐसे रिश्ते को जितना जल्दी हो सकें तोड़ दें।

अगर आपको लगता है कि आपका रिश्ता सुधर सकता है तो इसके लिए रिलेशनशिप काउंसलर की मदद लेने से हिचकिचाएं नहीं। हालांकि, अगर ये तरीका काम न आए तो अपने दोस्तों या किसी करीबी के साथ अपनी सिचुएशन को शेयर करें। इससे दो चीजें हो सकती हैं या तो उनकी सलाह से रिश्ता संभल जाएगा या फिर उनकी मदद से आप टॉक्सिक रिलेशनशिप से खुद को आजाद कर लेंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है