×

Subsidies Helicopter:सड़क से महरूम क्षेत्रों की बनाए DPR

Subsidies Helicopter:सड़क से महरूम क्षेत्रों की बनाए DPR

- Advertisement -

कुल्लू। केंद्र सरकार ने सड़क सुविधा से महरूम दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों के लिए पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर सब्सिडाइज्ड दर पर हेलिकॉप्टर सेवा आरंभ करने का निर्णय लिया है। कुल्लू जिला में भी ऐसे गांवों को चिह्नित करने और इस संबंध में डीपीआर तैयार करके केंद्र सरकार को भेजी जाए़, ताकि कुल्लू के ऐसे क्षेत्रों के लोगों को यह सुविधा मिल सके। यह निर्देश गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव ज्ञानेश कुमार ने सर्किट हाउस कुल्लू में जिला के विभिन्न विभागों के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक में दिए।


  • गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव ज्ञानेश कुमार ने अधिकारियों को दिए निर्देश
  • केंद्रीय दल ने कुल्लू में लिया बरसात से हुए नुकसान का जायजा
  • गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव के नेतृत्व में पहुंचा केंद्रीय दल
  • बरसात के दौरान हुआ था 15 करोड़ से अधिक का नुकसान

यह बैठक बरसात में हुए नु्कसान की समीक्षा के लिए आयोजित की गई थी। जिला में गत बरसात के मौसम के दौरान बाढ़, भू-स्खलन, बादल फटने और अन्य प्राकृतिक आपदाओं से हुए करोड़ों रुपये के नुकसान के kullu-abcdआकलन और उसका जायजा लेने के लिए शनिवार को गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव ज्ञानेश कुमार के नेतृत्व में एक केंद्रीय दल ने जिला के विभिन्न प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। केंद्रीय दल ने जिला कुल्लू में लोक निर्माण विभाग, सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग, बिजली, कृषि तथा बागवानी क्षेत्र में हुए नुकसान का जायजा लिया। इस दल में संयुक्त सचिव ज्ञानेश कुमार के अलावा सुभाष चंद करोल निदेशक, अभिलाष कुमार सिंह इंजीनियरिंग लाइजनिंग आफिसर, केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के अवर सचिव राजेश कुमार कनौजिया शामिल थे। इस दल ने बजौरा, पीरडी, बनाला और न्यून आदि क्षेत्रों का दौरा किया। इसके बाद संयुक्त सचिव ज्ञानेश कुमार ने सर्किट हाउस कुल्लू में जिला के विभिन्न विभागों के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक करके नुकसान की समीक्षा की। संयुक्त सचिव ने विभागीय अधिकारियों को विकास कार्यों को गति प्रदान करने के लिए मनरेगा के साथ कनवरजेंस के माध्यम से विकास कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान की भरपाई के लिए केंद्र सरकार से पर्याप्त धनराशि का प्रावधान करवाने के प्रयास किए जाएंगे।

इस मौके पर उपायुक्त कुल्लू यूनुस ने केंद्रीय दल के सभी सदस्यों का स्वागत किया और बरसात के मौसम के दौरान जिला में हुए नुकसान की विस्तृत जानकारी दी। उपायुक्त ने बताया कि कुल्लू जिला में बरसात से लगभग 15 करोड़ 31 लाख रुपये का नुकसान आंका गया है। इसमें से लोक निर्माण विभाग को 7 करोड़ 75 लाख, आईपीएच 6 करोड़ 73 लाख रुपये, बागवानी 68 लाख, बिजली 9 लाख रुपये और कृषि विभाग को 6 लाख रुपये का नुकसान हुआ है।   बैठक में एडीसी राकेश शर्मा, एसडीएम रोहित राठौर, आईपीएच विभाग के एसई देवेश भारद्वाज, बिजली बोर्ड के एसई राजीव सूद और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है